Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
2 May 2022 · 1 min read

सजना शीतल छांव हैं सजनी

आग सी बरस रही सूरज से, दिन भर लू सी चलती है
गर्मी गर्मी उफ्फ ये गर्मी, जैंसे जान निकलती है
चैन नहीं दिन रैन, बिन साजन भट्टी सी जलती है
प्रेम अगन की तपन, तन मन प्रेम अग्नि में जलता है
पिया बिना एक-एक पल, दिल को बरसों सा लगता है
साजन के संगमें , शीतल बन जाती है जेठ की दुपहरी
साजन के संग में गरम हवाएं,ठंडी हो जाती बसंती सी
सजना शीतल छांव है सजनी, गर्मी भी खूब सुहाती है
संग सजना के गरम हवा भी, अमराई बन जाती है
सुरेश कुमार चतुर्वेदी

Language: Hindi
3 Likes · 2 Comments · 235 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from सुरेश कुमार चतुर्वेदी
View all
You may also like:
'सरदार' पटेल
'सरदार' पटेल
Vishnu Prasad 'panchotiya'
उपदेशों ही मूर्खाणां प्रकोपेच न च शांतय्
उपदेशों ही मूर्खाणां प्रकोपेच न च शांतय्
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
निश्छल छंद विधान
निश्छल छंद विधान
डॉ. रजनी अग्रवाल 'वाग्देवी रत्ना'
*कामदेव को जीता तुमने, शंकर तुम्हें प्रणाम है (भक्ति-गीत)*
*कामदेव को जीता तुमने, शंकर तुम्हें प्रणाम है (भक्ति-गीत)*
Ravi Prakash
आएंगे तो मोदी ही
आएंगे तो मोदी ही
Sanjay ' शून्य'
आंखों देखा सच
आंखों देखा सच
Shekhar Chandra Mitra
ख़बर है आपकी ‘प्रीतम’ मुहब्बत है उसे तुमसे
ख़बर है आपकी ‘प्रीतम’ मुहब्बत है उसे तुमसे
आर.एस. 'प्रीतम'
दोहे-
दोहे-
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
Jaruri to nhi , jo riste dil me ho ,
Jaruri to nhi , jo riste dil me ho ,
Sakshi Tripathi
प्रीत तुझसे एैसी जुड़ी कि
प्रीत तुझसे एैसी जुड़ी कि
Seema gupta,Alwar
💐💐छोरी स्मार्ट बन री💐💐
💐💐छोरी स्मार्ट बन री💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
नशा नाश की गैल हैं ।।
नशा नाश की गैल हैं ।।
Dr. Akhilesh Baghel "Akhil"
"बदलाव"
Dr. Kishan tandon kranti
अब साम्राज्य हमारा है युद्ध की है तैयारी ✍️✍️
अब साम्राज्य हमारा है युद्ध की है तैयारी ✍️✍️
Rohit yadav
एक समझदार व्यक्ति द्वारा रिश्तों के निर्वहन में अचानक शिथिल
एक समझदार व्यक्ति द्वारा रिश्तों के निर्वहन में अचानक शिथिल
Paras Nath Jha
अगर कोई आपको मोहरा बना कर,अपना उल्लू सीधा कर रहा है तो समझ ल
अगर कोई आपको मोहरा बना कर,अपना उल्लू सीधा कर रहा है तो समझ ल
विमला महरिया मौज
संगीत की धुन से अनुभव महसूस होता है कि हमारे विचार व ज्ञान क
संगीत की धुन से अनुभव महसूस होता है कि हमारे विचार व ज्ञान क
Shashi kala vyas
कातिल
कातिल
Gurdeep Saggu
हम तुम्हें खुद में
हम तुम्हें खुद में
Dr fauzia Naseem shad
Parents-just an alarm
Parents-just an alarm
नव लेखिका
लगाये तुमको हम यह भोग,कुंवर वीर तेजाजी
लगाये तुमको हम यह भोग,कुंवर वीर तेजाजी
gurudeenverma198
Quote
Quote
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
पितर पाख
पितर पाख
Mukesh Kumar Sonkar
शिवाजी गुरु समर्थ रामदास – बाल्यकाल और नया पड़ाव – 02
शिवाजी गुरु समर्थ रामदास – बाल्यकाल और नया पड़ाव – 02
Sadhavi Sonarkar
एक सरकारी सेवक की बेमिसाल कर्मठता / MUSAFIR BAITHA
एक सरकारी सेवक की बेमिसाल कर्मठता / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
खुशी और गम
खुशी और गम
himanshu yadav
बन गई पाठशाला
बन गई पाठशाला
rekha mohan
पता नहीं किसने
पता नहीं किसने
Anil Mishra Prahari
कविता
कविता
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
मुकाम
मुकाम
Swami Ganganiya
Loading...