Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
27 Jan 2024 · 1 min read

रोशनी का पेड़

रोशनी का पेड़ – ( 5 of 25)

हृदय की ज़मी थी , आंसू की नमी थी
उगा दुख की रात में , रोशनी का पेड़…

ख्वाब जिनकी आँख थे , पंख जिनके हौसले
देने उजाला उनको उगा , रोशनी का पेड़…

जब अंधेरा छाया , ड़र ने बड़ा डराया
पत्थरों को चीर उगा , रोशनी का पेड़…

फिर से झिलमिला उठे , ख्वाहिशों के घोंसले
नेक इरादों से उगा , रोशनी का पेड़….

बादालों से झांकता , चांद उसको ताकता
मुस्कुरा दिया जो उगा , रोशनी का पेड़…

दिन ढ़ले रात आई , धूप खिली बदली छाई
मौसम भी हारा जो उगा , रोशनी का पेड़….

खुशीयों के गुल खिले , सुकून की छाया मिले
सच्चे दिलों की मनन्तें हैं , रोशनी का पेड़…

– क्षमा ऊर्मिला

Language: Hindi
2 Likes · 38 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
अब कुछ बचा नहीं बिकने को बाजार में
अब कुछ बचा नहीं बिकने को बाजार में
Ashish shukla
*भगत सिंह हूँ फैन  सदा तेरी शराफत का*
*भगत सिंह हूँ फैन सदा तेरी शराफत का*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
यदि आप सकारात्मक नजरिया रखते हैं और हमेशा अपना सर्वश्रेष्ठ प
यदि आप सकारात्मक नजरिया रखते हैं और हमेशा अपना सर्वश्रेष्ठ प
पूर्वार्थ
मेरी एक बार साहेब को मौत के कुएं में मोटरसाइकिल
मेरी एक बार साहेब को मौत के कुएं में मोटरसाइकिल
शेखर सिंह
हद्द - ए - आसमाँ की न पूछा करों,
हद्द - ए - आसमाँ की न पूछा करों,
manjula chauhan
मार   बेरोजगारी   की   सहते  रहे
मार बेरोजगारी की सहते रहे
अभिनव अदम्य
वक्त (प्रेरणादायक कविता):- सलमान सूर्य
वक्त (प्रेरणादायक कविता):- सलमान सूर्य
Salman Surya
नन्ही परी
नन्ही परी
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
अंतरंग प्रेम
अंतरंग प्रेम
Paras Nath Jha
2274.
2274.
Dr.Khedu Bharti
शुभ प्रभात मित्रो !
शुभ प्रभात मित्रो !
Mahesh Jain 'Jyoti'
"किस बात का गुमान"
Ekta chitrangini
💐प्रेम कौतुक-509💐
💐प्रेम कौतुक-509💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
रंग भेद ना चाहिए विश्व शांति लाइए सम्मान सबका कीजिए
रंग भेद ना चाहिए विश्व शांति लाइए सम्मान सबका कीजिए
DrLakshman Jha Parimal
#अग्रिम_शुभकामनाएँ
#अग्रिम_शुभकामनाएँ
*Author प्रणय प्रभात*
मन से हरो दर्प औ अभिमान
मन से हरो दर्प औ अभिमान
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
मानो जीवन को सदा, ट्वंटी-ट्वंटी खेल (कुंडलिया)
मानो जीवन को सदा, ट्वंटी-ट्वंटी खेल (कुंडलिया)
Ravi Prakash
सुविचार
सुविचार
विनोद कृष्ण सक्सेना, पटवारी
इस टूटे हुए दिल को जोड़ने की   कोशिश मत करना
इस टूटे हुए दिल को जोड़ने की कोशिश मत करना
Anand.sharma
सर्द और कोहरा भी सच कहता हैं
सर्द और कोहरा भी सच कहता हैं
Neeraj Agarwal
सुनो कभी किसी का दिल ना दुखाना
सुनो कभी किसी का दिल ना दुखाना
shabina. Naaz
अब किसी की याद नहीं आती
अब किसी की याद नहीं आती
Harminder Kaur
खूबसूरती एक खूबसूरत एहसास
खूबसूरती एक खूबसूरत एहसास
Dr fauzia Naseem shad
राखी प्रेम का बंधन
राखी प्रेम का बंधन
रवि शंकर साह
*
*"देश की आत्मा है हिंदी"*
Shashi kala vyas
लम्हा-लम्हा
लम्हा-लम्हा
Surinder blackpen
तथाकथित धार्मिक बोलबाला झूठ पर आधारित है
तथाकथित धार्मिक बोलबाला झूठ पर आधारित है
Mahender Singh
आज की जेनरेशन
आज की जेनरेशन
ruby kumari
"छलनी"
Dr. Kishan tandon kranti
चंद दोहे नारी पर...
चंद दोहे नारी पर...
डॉ.सीमा अग्रवाल
Loading...