Nov 27, 2021 · 1 min read

बाबू

बाबू याद आबै छी!
पता नै कंहा छी?
परंच पास लगै छी!

डांट याद आबै छी।
आइ कोनोनै डांटै छी?
बाबू याद आबै छी!

मनुहार याद आबै छी!
आइ कोनोनै मनुहारै छी?
बाबू याद आबै छी!

दुलार याद आबै छी!
आइ कोनोनै दुलारै छी?
बाबू याद आबै छी!

त्याग याद आबै छी!
आइ कोनोनै त्यागै छी?
बाबू याद आबै छी!

बिंबक प्रतिबिंब बनल छी!
अचेतनसं चेतन बनल छी!
रामा मनुष बनल छी!

स्वरचित © सर्वाधिकार रचनाकाराधीन।

रचनाकार-आचार्य रामानंद मंडल सामाजिक चिंतक सीतामढ़ी।

262 Views
You may also like:
आलिंगन हो जानें दो।
Taj Mohammad
जब बेटा पिता पे सवाल उठाता हैं
Nitu Sah
युद्ध सिर्फ प्रश्न खड़ा करता है। [भाग ७]
Anamika Singh
पिता
Meenakshi nagar Nagar
सच्चा प्यार
Anamika Singh
आरज़ू है बस ख़ुदा
Dr. Pratibha Mahi
पिता का साया हूँ
N.ksahu0007@writer
अरविंद सवैया
संजीव शुक्ल 'सचिन'
पिता
रिपुदमन झा "पिनाकी"
दया करो भगवान
Buddha Prakash
बेजुबान और कसाई
मनोज कर्ण
A Warrior Of The Darkness
Manisha Manjari
एक दौर था हम भी आशिक हुआ करते थे
Krishan Singh
पिता
Anis Shah
दुर्योधन कब मिट पाया:भाग:36
AJAY AMITABH SUMAN
आओ अब लौट चलें वह देश ..।
Buddha Prakash
ममता की फुलवारी माँ हमारी
Dr. Alpa H.
हम एक है
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
कहां चला अरे उड़ कर पंछी
VINOD KUMAR CHAUHAN
पितृ ऋण
Shyam Sundar Subramanian
मोहब्बत की दर्द- ए- दास्ताँ
Jyoti Khari
सागर
Vikas Sharma'Shivaaya'
रिश्ते
कुलदीप दहिया "मरजाणा दीप"
आज का विकास या भविष्य की चिंता
Vishnu Prasad 'panchotiya'
पिता और एफडी
सूर्यकांत द्विवेदी
क्या होता है पिता
gurudeenverma198
बचपन की यादें।
Anamika Singh
संघर्ष
Rakesh Pathak Kathara
【30】*!* गैया मैया कृष्ण कन्हैया *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
मुकरियां_ गिलहरी
Manu Vashistha
Loading...