Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
2 Oct 2021 · 1 min read

लाल बहादुर शास्त्री जी सादगी की मिसाल थे

लाल बहादुर शास्त्री जी सादगी की बड़ी मिसाल थे
कर्तव्यनिष्ठ ईमानदार मां भारती के लाल थे
देश में जब था अन्न का संकट, सप्ताह में एक समय उपवास किया
सारे देश ने संकल्प में उनके, सोमवार का व्रत लिया
हरित क्रांति लाए, आत्मनिर्भरता के कदम उठाए
जय जवान जय किसान का नारा लेकर आए
सन ६५ के युद्ध में दृढ़ता उनने दिखलाई
मुंह बल गिर गया था दुश्मन,देश की साख बढ़ाई
अल्प समय के कार्यकाल में,देश ऊंचा नाम किया
श्रद्धानवत हैं भारत के वासी, भारत को ऐंसा लाल मिला
सुरेश कुमार चतुर्वेदी

Language: Hindi
3 Likes · 2 Comments · 173 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from सुरेश कुमार चतुर्वेदी
View all
You may also like:
24/243. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
24/243. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
#आप_भी_बनिए_मददगार
#आप_भी_बनिए_मददगार
*Author प्रणय प्रभात*
लाल बहादुर शास्त्री
लाल बहादुर शास्त्री
Kavita Chouhan
धोखा
धोखा
Paras Nath Jha
मुराद
मुराद
Mamta Singh Devaa
सवर्ण पितृसत्ता, सवर्ण सत्ता और धर्मसत्ता के विरोध के बिना क
सवर्ण पितृसत्ता, सवर्ण सत्ता और धर्मसत्ता के विरोध के बिना क
Dr MusafiR BaithA
रामायण से सीखिए,
रामायण से सीखिए,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
मुख पर जिसके खिला रहता शाम-ओ-सहर बस्सुम,
मुख पर जिसके खिला रहता शाम-ओ-सहर बस्सुम,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
हमें न बताइये,
हमें न बताइये,
शेखर सिंह
विचार
विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
खामोशियां मेरी आवाज है,
खामोशियां मेरी आवाज है,
Stuti tiwari
रमेशराज के विरोधरस के गीत
रमेशराज के विरोधरस के गीत
कवि रमेशराज
जीवन का सफर
जीवन का सफर
नवीन जोशी 'नवल'
जिंदगी में एक रात ऐसे भी आएगी जिसका कभी सुबह नहीं होगा ll
जिंदगी में एक रात ऐसे भी आएगी जिसका कभी सुबह नहीं होगा ll
Ranjeet kumar patre
प्रशांत सोलंकी
प्रशांत सोलंकी
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
फितरत
फितरत
पूनम झा 'प्रथमा'
दिल में एहसास
दिल में एहसास
Dr fauzia Naseem shad
*
*"जहां भी देखूं नजर आते हो तुम"*
Shashi kala vyas
दोहा
दोहा
गुमनाम 'बाबा'
अफ़सोस
अफ़सोस
Shekhar Chandra Mitra
"ला-ईलाज"
Dr. Kishan tandon kranti
जब तू मिलती है
जब तू मिलती है
gurudeenverma198
होश खो देते जो जवानी में
होश खो देते जो जवानी में
Dr Archana Gupta
तुम मुझे देखकर मुस्कुराने लगे
तुम मुझे देखकर मुस्कुराने लगे
नंदलाल सिंह 'कांतिपति'
विजय या मन की हार
विजय या मन की हार
Satish Srijan
****** धनतेरस लक्ष्मी का उपहार ******
****** धनतेरस लक्ष्मी का उपहार ******
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
सीधी मुतधार में सुधार
सीधी मुतधार में सुधार
मानक लाल मनु
वो सुहानी शाम
वो सुहानी शाम
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
मैं तेरा कृष्णा हो जाऊं
मैं तेरा कृष्णा हो जाऊं
bhandari lokesh
हरि हृदय को हरा करें,
हरि हृदय को हरा करें,
sushil sarna
Loading...