Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
7 Jul 2023 · 1 min read

फिदरत

🌸🥀🌺🌼🌹🌼🌺🥀
** ” ** “” ** “” ** “” ** ” **
आईना रख सामने
पूछ कुछ सवाल
अपने आप से।
फिदरत बदल जायेगी तेरी
अगर मिल जाये जवाब तुझे
अपने आप से।
आईना रख सामने
आज कर तु कुछ सवाल
अपने आप से।
हे जो सवाल तेरे जहन में
बाहर निकाल उन्हें मन के ख्याल से।
मिला जो उचित जवाब तुझे
तो समझ फिदरत बदल जायेगी तेरी
अपने आप से।
आईना रख सामने
पूछ कुछ सवाल अपने आप से।

🌺🌺🌷🌼🌺🌺🌷🌼🌺🌺
** ** ** ** ** **
🥀Swami Ganganiya🥀

4 Likes · 366 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
पश्चाताप
पश्चाताप
DR ARUN KUMAR SHASTRI
मेरे प्रेम पत्र 3
मेरे प्रेम पत्र 3
विजय कुमार नामदेव
"कविता और प्रेम"
Dr. Kishan tandon kranti
क्या मथुरा क्या काशी जब मन में हो उदासी ?
क्या मथुरा क्या काशी जब मन में हो उदासी ?
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
अपभ्रंश-अवहट्ट से,
अपभ्रंश-अवहट्ट से,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
भारत मां की लाज रखो तुम देश के सर का ताज बनो
भारत मां की लाज रखो तुम देश के सर का ताज बनो
कवि दीपक बवेजा
भीगे अरमाॅ॑ भीगी पलकें
भीगे अरमाॅ॑ भीगी पलकें
VINOD CHAUHAN
कौन कहता है छोटी चीजों का महत्व नहीं होता है।
कौन कहता है छोटी चीजों का महत्व नहीं होता है।
Yogendra Chaturwedi
#दीनदयाल_जयंती
#दीनदयाल_जयंती
*Author प्रणय प्रभात*
आँखें
आँखें
लक्ष्मी सिंह
“ आप अच्छे तो जग अच्छा ”
“ आप अच्छे तो जग अच्छा ”
DrLakshman Jha Parimal
💐अज्ञात के प्रति-24💐
💐अज्ञात के प्रति-24💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
मुझे तेरी जरूरत है
मुझे तेरी जरूरत है
Basant Bhagawan Roy
तेरे बिछड़ने पर लिख रहा हूं ग़ज़ल की ये क़िताब,
तेरे बिछड़ने पर लिख रहा हूं ग़ज़ल की ये क़िताब,
Sahil Ahmad
त्यौहार
त्यौहार
Mukesh Kumar Sonkar
2463.पूर्णिका
2463.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
चरम सुख
चरम सुख
मनोज कर्ण
*गीता सुनाई कृष्ण ने, मधु बॉंसुरी गाते रहे(मुक्तक)*
*गीता सुनाई कृष्ण ने, मधु बॉंसुरी गाते रहे(मुक्तक)*
Ravi Prakash
भक्त गोरा कुम्हार
भक्त गोरा कुम्हार
Pravesh Shinde
कुछ लड़के होते है जिनको मुहब्बत नहीं होती  और जब होती है तब
कुछ लड़के होते है जिनको मुहब्बत नहीं होती और जब होती है तब
पूर्वार्थ
गमों के साये
गमों के साये
Swami Ganganiya
भीमराव अम्बेडकर
भीमराव अम्बेडकर
Mamta Rani
सत्य की खोज
सत्य की खोज
Suman (Aditi Angel 🧚🏻)
प्रभु शरण
प्रभु शरण
चक्षिमा भारद्वाज"खुशी"
सुकूं आता है,नहीं मुझको अब है संभलना ll
सुकूं आता है,नहीं मुझको अब है संभलना ll
गुप्तरत्न
बारिश का मौसम
बारिश का मौसम
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
शांति के लिए अगर अन्तिम विकल्प झुकना
शांति के लिए अगर अन्तिम विकल्प झुकना
Paras Nath Jha
सितम ढाने का, हिसाब किया था हमने,
सितम ढाने का, हिसाब किया था हमने,
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
मौसम का मिजाज़ अलबेला
मौसम का मिजाज़ अलबेला
Buddha Prakash
विषय -परिवार
विषय -परिवार
Nanki Patre
Loading...