Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
8 Mar 2017 · 1 min read

नारी

नारी

स्नेह की धारा है वह, है वात्सल्य की मूर्ति
वीरुध वही,वन वही, कालिका की वो पूर्ति
राष्ट्र , समाज और परिवार को वो समर्पित
स्व – पर, हित को करती प्राण भी अर्पित
वाणी वही, गिरिजा वही, है दामिनी भी वह
कल्पना वो, प्रतिभा वही है कामिनी भी वह
किरन है वह, है सुभद्रा , है महादेवी भी वह
सृजक है वो समाज की समाजसेवी भी वह
है मदर टेरेसा, ऐनी बेसेन्ट, यशोदा भी वह
है अनैतिक समर में संघर्षरत,योद्धा भी वह
बोझ नहीं है , अबला नहीं, न द्वितीय है वह
वह धरा पर देवी रूप ,नारी, अद्वितीय वह
जननी वही , गृहणी वही , नंदिनी भी है वह
भगिनी वही , सती वही , संगिनी भी है वह
बरछी वही , कलम वही, तलवार भी है वह
कंचन वही, चाँदी वही , अलंकार भी है वह
शस्त्र भी वह, शास्त्र भी वह,शक्ति भी है वह
अस्त्र है वह,आस्था भी वह,भक्ति भी है वह
– नवीन कुमार जैन

Language: Hindi
2 Likes · 492 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
भारत का सिपाही
भारत का सिपाही
Rajesh
आप किससे प्यार करते हैं?
आप किससे प्यार करते हैं?
Otteri Selvakumar
क्षणिका :  ऐश ट्रे
क्षणिका : ऐश ट्रे
sushil sarna
तू ही बता, करूं मैं क्या
तू ही बता, करूं मैं क्या
Aditya Prakash
सब छोड़ कर चले गए हमें दरकिनार कर के यहां
सब छोड़ कर चले गए हमें दरकिनार कर के यहां
VINOD CHAUHAN
चुनावी वादा
चुनावी वादा
नंदलाल सिंह 'कांतिपति'
दिल रंज का शिकार है और किस क़दर है आज
दिल रंज का शिकार है और किस क़दर है आज
Sarfaraz Ahmed Aasee
मुक्तक7
मुक्तक7
Dr Archana Gupta
रिश्ते वही अनमोल
रिश्ते वही अनमोल
Dr fauzia Naseem shad
चाय
चाय
Rajeev Dutta
मत बनो उल्लू
मत बनो उल्लू
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
उनसे बिछड़ कर ना जाने फिर कहां मिले
उनसे बिछड़ कर ना जाने फिर कहां मिले
श्याम सिंह बिष्ट
मोबाइल फोन
मोबाइल फोन
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
रिमझिम बरसो
रिमझिम बरसो
surenderpal vaidya
उम्र के हर एक पड़ाव की तस्वीर क़ैद कर लेना
उम्र के हर एक पड़ाव की तस्वीर क़ैद कर लेना
'अशांत' शेखर
💐प्रेम कौतुक-157💐
💐प्रेम कौतुक-157💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
गाए जा, अरी बुलबुल
गाए जा, अरी बुलबुल
Shekhar Chandra Mitra
हिन्दू जागरण गीत
हिन्दू जागरण गीत
मनोज कर्ण
कुछ हाथ भी ना आया
कुछ हाथ भी ना आया
Dalveer Singh
*पेड़ (पाँच दोहे)*
*पेड़ (पाँच दोहे)*
Ravi Prakash
■ जीवन सार...
■ जीवन सार...
*Author प्रणय प्रभात*
सूने सूने से लगते हैं
सूने सूने से लगते हैं
Er. Sanjay Shrivastava
मुराद
मुराद
Mamta Singh Devaa
2602.पूर्णिका
2602.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
दोहा
दोहा
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
"सफलता"
Dr. Kishan tandon kranti
एक विचार पर हमेशा गौर कीजियेगा
एक विचार पर हमेशा गौर कीजियेगा
शेखर सिंह
वक्त से वकालत तक
वक्त से वकालत तक
Vishal babu (vishu)
भ्रम नेता का
भ्रम नेता का
Sanjay ' शून्य'
*
*"तिरंगा झंडा"*
Shashi kala vyas
Loading...