Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
4 Feb 2024 · 1 min read

गांधीजी का भारत

कितने ही लोगों ने भारत की आजादी में अपना जीवन बलिदान दिया।
फिर किसने कैसे और क्यों गांधीजी को राष्ट्रपिता का नाम दिया।।
बोस बिस्मिल भगत दयानंद जैसे कितनों ने तो जीवन बलिदान किया।
फिर किसने कैसे और क्यों गांधीजी को राष्ट्रपिता का नाम दिया।।
कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव तो जीता बोस ने पर गांधी ने इसको नहीं स्वीकार किया।
गांधीजी ने कहा सुभाष तूने नेहरू को नहीं मुझको इस चुनाव में हरा दिया।।
मांग लिया इस्तीफा सुभाष से और नेहरू को कांग्रेस का अध्यक्ष बना दिया।
बस इसलिए नेहरू जी ने गांधीजी को पुरुस्कार में राष्ट्रपिता का नाम दिया।।
भारत की संसद ने किसी भी युग में या फिर कभी भी क्या कोई प्रस्ताव पास किया।
जिसके दम पर कांग्रेस ने गांधीजी को भारत के राष्ट्रपिता का नाम दिया।।
सोचो गांधीजी ने अंग्रेजों से मिलकर भारत को कैसे इंडिया बना दिया।
इंडिया नाम बदलकर जिसने देश संग गद्दारी करने जैसा काम किया।
बस इसलिए नेहरू जी ने गांधीजी को पुरुस्कार में राष्ट्रपिता का नाम दिया।।
कहे विजय बिजनौरी साजिश कर देश का इतिहास ही जिसने बदल दिया।
और साजिश के तहत बलिदानियों की छवि को धूमिल कर जिसने पेश किया।।
राष्ट्र बड़ा है या व्यक्ति इसका कभी भी नेहरू ने नहीं विचार किया।
बस इसलिए नेहरू जी ने गांधीजी को पुरुस्कार में राष्ट्रपिता का नाम दिया।।

विजय कुमार अग्रवाल
विजय बिजनौरी।

Language: Hindi
107 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from विजय कुमार अग्रवाल
View all
You may also like:
भावनाओं की किसे पड़ी है
भावनाओं की किसे पड़ी है
Vaishaligoel
*स्पंदन को वंदन*
*स्पंदन को वंदन*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
"समय का महत्व"
Yogendra Chaturwedi
ये बेटा तेरा मर जाएगा
ये बेटा तेरा मर जाएगा
Basant Bhagawan Roy
बंदूक के ट्रिगर पर नियंत्रण रखने से पहले अपने मस्तिष्क पर नि
बंदूक के ट्रिगर पर नियंत्रण रखने से पहले अपने मस्तिष्क पर नि
Rj Anand Prajapati
दूषित न कर वसुंधरा को
दूषित न कर वसुंधरा को
goutam shaw
आज कल पढ़ा लिखा युवा क्यों मौन है,
आज कल पढ़ा लिखा युवा क्यों मौन है,
शेखर सिंह
दिल का दर्द
दिल का दर्द
Dipak Kumar "Girja"
😢शर्मनाक😢
😢शर्मनाक😢
*प्रणय प्रभात*
*यह तो बात सही है सबको, जग से जाना होता है (हिंदी गजल)*
*यह तो बात सही है सबको, जग से जाना होता है (हिंदी गजल)*
Ravi Prakash
दूसरों को खरी-खोटी सुनाने
दूसरों को खरी-खोटी सुनाने
Dr.Rashmi Mishra
गिलहरी
गिलहरी
Satish Srijan
!! दर्द भरी ख़बरें !!
!! दर्द भरी ख़बरें !!
Chunnu Lal Gupta
डायरी भर गई
डायरी भर गई
Dr. Meenakshi Sharma
हौसला
हौसला
Shyam Sundar Subramanian
खामोशी ने मार दिया।
खामोशी ने मार दिया।
Anil chobisa
*चांद नहीं मेरा महबूब*
*चांद नहीं मेरा महबूब*
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
3443🌷 *पूर्णिका* 🌷
3443🌷 *पूर्णिका* 🌷
Dr.Khedu Bharti
मौजूदा ये साल मयस्ससर हो जाए
मौजूदा ये साल मयस्ससर हो जाए
Shweta Soni
हे गर्भवती !
हे गर्भवती !
Akash Yadav
गुरु का महत्व
गुरु का महत्व
Indu Singh
हम कोई भी कार्य करें
हम कोई भी कार्य करें
Swami Ganganiya
कुछ मुक्तक...
कुछ मुक्तक...
डॉ.सीमा अग्रवाल
परख: जिस चेहरे पर मुस्कान है, सच्चा वही इंसान है!
परख: जिस चेहरे पर मुस्कान है, सच्चा वही इंसान है!
Rohit Gupta
खुश्क आँखों पे क्यूँ यकीं होता नहीं
खुश्क आँखों पे क्यूँ यकीं होता नहीं
sushil sarna
राम है अमोघ शक्ति
राम है अमोघ शक्ति
Kaushal Kumar Pandey आस
🥀 *गुरु चरणों की धूल*🥀
🥀 *गुरु चरणों की धूल*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
Gestures Of Love
Gestures Of Love
Vedha Singh
लफ्जों के सिवा।
लफ्जों के सिवा।
Taj Mohammad
....एक झलक....
....एक झलक....
Naushaba Suriya
Loading...