Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
26 Apr 2023 · 1 min read

“कोई तो है”

“कोई तो है”
कोई तो है
जो हमारी नींद तोड़ता है,
फिर उसको
जागरण से जोड़ता है
पता नहीं
वो कोई सपना है, वेदना है
कोई भूख है
कि मानवीय संवेदना है।

6 Likes · 2 Comments · 323 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr. Kishan tandon kranti
View all
You may also like:
सफल व्यक्ति
सफल व्यक्ति
Paras Nath Jha
आंखो में है नींद पर सोया नही जाता
आंखो में है नींद पर सोया नही जाता
Ram Krishan Rastogi
ये
ये
Shweta Soni
"कितना कठिन प्रश्न है यह,
शेखर सिंह
My Lord
My Lord
Kanchan Khanna
शायद यह सोचने लायक है...
शायद यह सोचने लायक है...
पूर्वार्थ
अपनी हिंदी
अपनी हिंदी
Dr.Priya Soni Khare
जीने के तकाज़े हैं
जीने के तकाज़े हैं
Dr fauzia Naseem shad
दुनिया को ऐंसी कलम चाहिए
दुनिया को ऐंसी कलम चाहिए
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
धमकियां शुरू हो गई
धमकियां शुरू हो गई
Basant Bhagawan Roy
गणतंत्र दिवस
गणतंत्र दिवस
विजय कुमार अग्रवाल
सुर्ख बिंदी
सुर्ख बिंदी
Awadhesh Singh
गुलाब
गुलाब
Satyaveer vaishnav
बचपन और गांव
बचपन और गांव
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
कुछ रातों के घने अँधेरे, सुबह से कहाँ मिल पाते हैं।
कुछ रातों के घने अँधेरे, सुबह से कहाँ मिल पाते हैं।
Manisha Manjari
"गुल्लक"
Dr. Kishan tandon kranti
#बस_छह_पंक्तियां
#बस_छह_पंक्तियां
*Author प्रणय प्रभात*
12- अब घर आ जा लल्ला
12- अब घर आ जा लल्ला
Ajay Kumar Vimal
The only difference between dreams and reality is perfection
The only difference between dreams and reality is perfection
सिद्धार्थ गोरखपुरी
उम्र निकल रही है,
उम्र निकल रही है,
Ansh
शालीनता की गणित
शालीनता की गणित
Mrs PUSHPA SHARMA {पुष्पा शर्मा अपराजिता}
जन्नत का हरेक रास्ता, तेरा ही पता है
जन्नत का हरेक रास्ता, तेरा ही पता है
Dr. Rashmi Jha
छंद मुक्त कविता : अनंत का आचमन
छंद मुक्त कविता : अनंत का आचमन
Sushila joshi
तुम जो आसमान से
तुम जो आसमान से
SHAMA PARVEEN
*पत्नी माँ भी है, पत्नी ही प्रेयसी है (गीतिका)*
*पत्नी माँ भी है, पत्नी ही प्रेयसी है (गीतिका)*
Ravi Prakash
23/169.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/169.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
*अगर दूसरे आपके जीवन की सुंदरता को मापते हैं तो उसके मापदंड
*अगर दूसरे आपके जीवन की सुंदरता को मापते हैं तो उसके मापदंड
Seema Verma
गुनो सार जीवन का...
गुनो सार जीवन का...
डॉ.सीमा अग्रवाल
हम किसे के हिज्र में खुदकुशी कर ले
हम किसे के हिज्र में खुदकुशी कर ले
himanshu mittra
गुफ्तगू तुझसे करनी बहुत ज़रूरी है ।
गुफ्तगू तुझसे करनी बहुत ज़रूरी है ।
Phool gufran
Loading...