Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
13 Feb 2017 · 1 min read

एक तेरा चेहरा

एक तेरा चेहरा भा गया मुझको
कि नहीं चाह अब कोई बाकी मुझको
उस को देख कर मुस्कुरा देता है दिल मेरा
कि अब कोई अरमान नहीं रहा बाकी मुझको !!

तू हंसती है, तो दिल हंस देता है
तू रोती है, यह दिल सब कुछ खोता है
तुमको खुश देख देख कर अब तो
मेरे जीवन का नया सवेरा होता है !!

जब सामने यह आ जाता है तो
दिल का कमल खुद ही खिल जाता है
बिना हवा और पानी के यह ,तेरे
दर्शन से ही, खुश हो जाता है !!

तुझे रब ने बनाया था जिस दिन
भर दिया था यह ,एक रंग उस दिन
कि बना के सूरत को यूं मुस्कुराती रहना
यही तेरे जीने की कला बनी थी उस दिन !!

अजीत कुमार तलवार
मेरठ

Language: Hindi
260 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
View all
You may also like:
रसीले आम
रसीले आम
नूरफातिमा खातून नूरी
रिश्ता
रिश्ता
Santosh Shrivastava
ग़ज़ल/नज़्म - मेरे महबूब के दीदार में बहार बहुत हैं
ग़ज़ल/नज़्म - मेरे महबूब के दीदार में बहार बहुत हैं
अनिल कुमार
ज़िन्दगी
ज़िन्दगी
डॉक्टर रागिनी
अन्न का मान
अन्न का मान
Dr. Pradeep Kumar Sharma
कसरत करते जाओ
कसरत करते जाओ
Harish Chandra Pande
*आए लंका जीत कर, नगर अयोध्या-धाम(कुंडलिया)*
*आए लंका जीत कर, नगर अयोध्या-धाम(कुंडलिया)*
Ravi Prakash
जी हमारा नाम है
जी हमारा नाम है "भ्रष्ट आचार"
Atul "Krishn"
"हाथों की लकीरें"
Ekta chitrangini
* सत्य पथ पर *
* सत्य पथ पर *
surenderpal vaidya
नेमत, इबादत, मोहब्बत बेशुमार दे चुके हैं
नेमत, इबादत, मोहब्बत बेशुमार दे चुके हैं
हरवंश हृदय
सौभाग्य मिले
सौभाग्य मिले
Pratibha Pandey
करुंगा अब मैं वही, मुझको पसंद जो होगा
करुंगा अब मैं वही, मुझको पसंद जो होगा
gurudeenverma198
बाधाएं आती हैं आएं घिरे प्रलय की घोर घटाएं पावों के नीचे अंग
बाधाएं आती हैं आएं घिरे प्रलय की घोर घटाएं पावों के नीचे अंग
पूर्वार्थ
3062.*पूर्णिका*
3062.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
अदाकारी
अदाकारी
Suryakant Dwivedi
वाणी
वाणी
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
राम से जी जोड़ दे
राम से जी जोड़ दे
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
लोग जाने किधर गये
लोग जाने किधर गये
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
मारी थी कभी कुल्हाड़ी अपने ही पांव पर ,
मारी थी कभी कुल्हाड़ी अपने ही पांव पर ,
ओनिका सेतिया 'अनु '
शांति युद्ध
शांति युद्ध
Dr.Priya Soni Khare
Bundeli Doha - birra
Bundeli Doha - birra
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
इश्क की कीमत
इश्क की कीमत
Mangilal 713
प्रशांत सोलंकी
प्रशांत सोलंकी
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
"जीवन की परिभाषा"
Dr. Kishan tandon kranti
युवा संवाद
युवा संवाद
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
गुस्ल ज़ुबान का करके जब तेरा एहतराम करते हैं।
गुस्ल ज़ुबान का करके जब तेरा एहतराम करते हैं।
Phool gufran
रामराज्य
रामराज्य
कार्तिक नितिन शर्मा
నమో గణేశ
నమో గణేశ
डॉ गुंडाल विजय कुमार 'विजय'
मेरे लिए
मेरे लिए
Shweta Soni
Loading...