Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
2 Dec 2017 · 1 min read

एक कविता

एक कविता थी मेरे अंदर
मर सी गयी जल्द ही
मैं शब्दों की धूल हटाते
उन्हें खुद से अलग कर गया

तस्वीरों से शब्दों को जोड़कर
कविता तेरी लिख रहा था
कुछ खूबसूरत तस्वीरें थी तेरी
पर तू जल्दी ही चला गया

तस्वीरें मिट गयी, रह गईं बेमतलब
कविता मेरी भी खो गयी कहीं
तो क्यों करूँ रोशन अंधेरों को
शायद तेरी नज़र पायेगा
शब्दों में सजाया प्यार जो पेड़ तले
मैं जाते जाते यूँ ही छोड़ गया

–प्रतीक

Language: Hindi
1 Like · 549 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
"अदृश्य शक्ति"
Ekta chitrangini
उसके नाम के 4 हर्फ़ मेरे नाम में भी आती है
उसके नाम के 4 हर्फ़ मेरे नाम में भी आती है
Madhuyanka Raj
"मेरी आवाज"
Dr. Kishan tandon kranti
सुबह आंख लग गई
सुबह आंख लग गई
Ashwani Kumar Jaiswal
*चिड़ियों को जल दाना डाल रहा है वो*
*चिड़ियों को जल दाना डाल रहा है वो*
sudhir kumar
ख्वाहिशों की ज़िंदगी है।
ख्वाहिशों की ज़िंदगी है।
Taj Mohammad
डॉ अरूण कुमार शास्त्री
डॉ अरूण कुमार शास्त्री
DR ARUN KUMAR SHASTRI
हम चाहते हैं
हम चाहते हैं
Basant Bhagawan Roy
तुम्हें भूल नहीं सकता कभी
तुम्हें भूल नहीं सकता कभी
gurudeenverma198
दिव्य-भव्य-नव्य अयोध्या
दिव्य-भव्य-नव्य अयोध्या
डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
नेता का अभिनय बड़ा, यह नौटंकीबाज(कुंडलिया )
नेता का अभिनय बड़ा, यह नौटंकीबाज(कुंडलिया )
Ravi Prakash
■ बच कर रहिएगा
■ बच कर रहिएगा
*Author प्रणय प्रभात*
I hope one day the clouds will be gone, and the bright sun will rise.
I hope one day the clouds will be gone, and the bright sun will rise.
Manisha Manjari
पग न अब पीछे मुड़ेंगे...
पग न अब पीछे मुड़ेंगे...
डॉ.सीमा अग्रवाल
घर छूटा तो बाकी के असबाब भी लेकर क्या करती
घर छूटा तो बाकी के असबाब भी लेकर क्या करती
Shweta Soni
बाल गीत
बाल गीत "लंबू चाचा आये हैं"
अटल मुरादाबादी, ओज व व्यंग कवि
-दीवाली मनाएंगे
-दीवाली मनाएंगे
Seema gupta,Alwar
कब मिलोगी मां.....
कब मिलोगी मां.....
Madhavi Srivastava
मौत की हक़ीक़त है
मौत की हक़ीक़त है
Dr fauzia Naseem shad
काश आज चंद्रमा से मुलाकाकत हो जाती!
काश आज चंद्रमा से मुलाकाकत हो जाती!
पूर्वार्थ
फागुन
फागुन
Punam Pande
2287.
2287.
Dr.Khedu Bharti
अधूरी मुलाकात
अधूरी मुलाकात
Neeraj Agarwal
অরাজক সহিংসতা
অরাজক সহিংসতা
Otteri Selvakumar
सिर्फ उम्र गुजर जाने को
सिर्फ उम्र गुजर जाने को
Ragini Kumari
एक ऐसा मीत हो
एक ऐसा मीत हो
लक्ष्मी सिंह
नाजायज इश्क
नाजायज इश्क
RAKESH RAKESH
*भारतीय क्रिकेटरों का जोश*
*भारतीय क्रिकेटरों का जोश*
Harminder Kaur
"ब्रेजा संग पंजाब"
Dr Meenu Poonia
उम्र  बस यूँ ही गुज़र रही है
उम्र बस यूँ ही गुज़र रही है
Atul "Krishn"
Loading...