Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
22 May 2024 · 1 min read

*Treasure the Nature*

It’s an ever brimming river of desires.
To keep collecting invaluable Sapphires.

To walk past the green meadows.
To Run while chasing our own shadows.

An ongoing Journey among the vast wilds.
Peeking at squirrels pecking nuts buried in soils.

To watch the pigeons feeding their Youngs.
To deep breath and fill oxygen inflating our lungs.

To let our hair flow freely with cool breeze.
And walk barefoot on ice till the legs get freeze.

To let the dreams run wild among flowers which blossom.
To inhale the fragrance of these gifts so awesome.

To soak in the beauty of wondering butterflies.
To quench the thirst of our soul and eyes.

To cherish the range of mountains far & wide.
Sometimes visible and sometimes hooligan clouds hide.

To treasure the nature and never part.
It’s a dream nurtured in every heart.

6 Likes · 608 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Poonam Matia
View all
You may also like:
मन को समझाने
मन को समझाने
sushil sarna
मुश्किलों में उम्मीद यूँ मुस्कराती है
मुश्किलों में उम्मीद यूँ मुस्कराती है
VINOD CHAUHAN
बुद्धि सबके पास है, चालाकी करनी है या
बुद्धि सबके पास है, चालाकी करनी है या
Shubham Pandey (S P)
रगणाश्रित : गुणांक सवैया
रगणाश्रित : गुणांक सवैया
Sushila joshi
#एकताको_अंकगणित
#एकताको_अंकगणित
NEWS AROUND (SAPTARI,PHAKIRA, NEPAL)
"वो बुड़ा खेत"
Dr. Kishan tandon kranti
23/72.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/72.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
*वर्तमान को स्वप्न कहें , या बीते कल को सपना (गीत)*
*वर्तमान को स्वप्न कहें , या बीते कल को सपना (गीत)*
Ravi Prakash
भाव और ऊर्जा
भाव और ऊर्जा
कवि रमेशराज
एक प्यार का नगमा
एक प्यार का नगमा
Basant Bhagawan Roy
मुक्तक
मुक्तक
Yogmaya Sharma
"" *अक्षय तृतीया* ""
सुनीलानंद महंत
बस जिंदगी है गुज़र रही है
बस जिंदगी है गुज़र रही है
Manoj Mahato
ज़िंदगी एक पहेली...
ज़िंदगी एक पहेली...
Srishty Bansal
थकावट दूर करने की सबसे बड़ी दवा चेहरे पर खिली मुस्कुराहट है।
थकावट दूर करने की सबसे बड़ी दवा चेहरे पर खिली मुस्कुराहट है।
Rj Anand Prajapati
*हर पल मौत का डर सताने लगा है*
*हर पल मौत का डर सताने लगा है*
Harminder Kaur
हर परिवार है तंग
हर परिवार है तंग
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
आज के बच्चों की बदलती दुनिया
आज के बच्चों की बदलती दुनिया
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
मन किसी ओर नहीं लगता है
मन किसी ओर नहीं लगता है
Shweta Soni
मेरी जिंदगी भी तुम हो,मेरी बंदगी भी तुम हो
मेरी जिंदगी भी तुम हो,मेरी बंदगी भी तुम हो
कृष्णकांत गुर्जर
* आ गया बसंत *
* आ गया बसंत *
surenderpal vaidya
-- तभी तक याद करते हैं --
-- तभी तक याद करते हैं --
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
माँ का महत्व
माँ का महत्व
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
मेरी कलम से…
मेरी कलम से…
Anand Kumar
बुंदेली दोहा-नदारौ
बुंदेली दोहा-नदारौ
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
आँखें
आँखें
Neeraj Agarwal
😢शर्मनाक😢
😢शर्मनाक😢
*प्रणय प्रभात*
नाम सुनाता
नाम सुनाता
Nitu Sah
बाजार आओ तो याद रखो खरीदना क्या है।
बाजार आओ तो याद रखो खरीदना क्या है।
Rajendra Kushwaha
दुआ सलाम
दुआ सलाम
Dr. Pradeep Kumar Sharma
Loading...