Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
8 Dec 2023 · 1 min read

🙏*गुरु चरणों की धूल*🙏

🙏*गुरु चरणों की धूल*🙏
कर्म पर्म धर्म पथ्पे चलना,कुर्कमी को दुहात नहीं।
काम क्रोध दोनों घातक,म्द लोभ विरोधाभास नहीं।
नेकी करोगे धर्म मिलेगा, कीवन तेरा मन होगा,
रँगी राही ज्ञान गुण सागर,कनक झनक मात न्हीं।।
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी

151 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
हे प्रभु मेरी विनती सुन लो , प्रभु दर्शन की आस जगा दो
हे प्रभु मेरी विनती सुन लो , प्रभु दर्शन की आस जगा दो
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
जहर मे भी इतना जहर नही होता है,
जहर मे भी इतना जहर नही होता है,
Ranjeet kumar patre
जीवन में कुछ भी स्थायी नहीं है। न सुख, न दुःख,न नौकरी, न रिश
जीवन में कुछ भी स्थायी नहीं है। न सुख, न दुःख,न नौकरी, न रिश
पूर्वार्थ
भावनाओं का प्रबल होता मधुर आधार।
भावनाओं का प्रबल होता मधुर आधार।
surenderpal vaidya
*महाराज श्री अग्रसेन को, सौ-सौ बार प्रणाम है  【गीत】*
*महाराज श्री अग्रसेन को, सौ-सौ बार प्रणाम है 【गीत】*
Ravi Prakash
जोश,जूनून भरपूर है,
जोश,जूनून भरपूर है,
Vaishaligoel
बस यूँ ही
बस यूँ ही
Neelam Sharma
भीड़ के साथ
भीड़ के साथ
Paras Nath Jha
कौशल कविता का - कविता
कौशल कविता का - कविता
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
ग़ज़ल
ग़ज़ल
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
बेटा
बेटा
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
#शेर-
#शेर-
*Author प्रणय प्रभात*
आज भी मुझे मेरा गांव याद आता है
आज भी मुझे मेरा गांव याद आता है
Praveen Sain
महाशिवरात्रि
महाशिवरात्रि
Seema gupta,Alwar
आखिर कब तक ?
आखिर कब तक ?
Dr fauzia Naseem shad
बारिश की बूंदों ने।
बारिश की बूंदों ने।
Taj Mohammad
कहते हैं,
कहते हैं,
Dhriti Mishra
बस चार ही है कंधे
बस चार ही है कंधे
Rituraj shivem verma
💐प्रेम कौतुक-375💐
💐प्रेम कौतुक-375💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
Bundeli Doha pratiyogita-149th -kujane
Bundeli Doha pratiyogita-149th -kujane
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
ग़ज़ल
ग़ज़ल
ईश्वर दयाल गोस्वामी
सवर्ण
सवर्ण
Dr. Pradeep Kumar Sharma
3238.*पूर्णिका*
3238.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
मैं आग नही फिर भी चिंगारी का आगाज हूं,
मैं आग नही फिर भी चिंगारी का आगाज हूं,
ऐ./सी.राकेश देवडे़ बिरसावादी
तू जब भी साथ होती है तो मेरा ध्यान लगता है
तू जब भी साथ होती है तो मेरा ध्यान लगता है
Johnny Ahmed 'क़ैस'
काले दिन ( समीक्षा)
काले दिन ( समीक्षा)
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
*** बचपन : एक प्यारा पल....!!! ***
*** बचपन : एक प्यारा पल....!!! ***
VEDANTA PATEL
प्राण- प्रतिष्ठा
प्राण- प्रतिष्ठा
डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
"सिक्का"
Dr. Kishan tandon kranti
लहरों पर चलता जीवन
लहरों पर चलता जीवन
मनोज कर्ण
Loading...