Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
15 Mar 2023 · 1 min read

💐प्रेम कौतुक-446💐

हर इक रात में उनकी मुक़र्रर याद आती है,
चाँदनी है बस जो मिरे दिल को बहलाती है,
यह कोई नशा नहीं है,मत रहो किसी ग़फ़लत में,
इक यही याद-दहानी है,जो मुझे ख़ुद से भुलाती है।

याद-दहानी=भूली हुई बात को याद दिलाना।

©®अभिषेक: पाराशरः “आनन्द”

Language: Hindi
70 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
तुम मुझे देखकर मुस्कुराने लगे
तुम मुझे देखकर मुस्कुराने लगे
नन्दलाल सिंह 'कांतिपति'
ऐसे दर्शन सदा मिले
ऐसे दर्शन सदा मिले
पंकज पाण्डेय सावर्ण्य
वज्रमणि
वज्रमणि
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
जीत वो सकते हैं कैसे
जीत वो सकते हैं कैसे
Dr fauzia Naseem shad
इश्क में  हम वफ़ा हैं बताए हो तुम।
इश्क में हम वफ़ा हैं बताए हो तुम।
सत्येन्द्र पटेल ‘प्रखर’
Think zara hat ke
Think zara hat ke
*Author प्रणय प्रभात*
"अदृश्य शक्ति"
Ekta chitrangini
जब मित्र बने हो यहाँ तो सब लोगों से खुलके जुड़ना सीख लो
जब मित्र बने हो यहाँ तो सब लोगों से खुलके जुड़ना सीख लो
DrLakshman Jha Parimal
💐प्रेम कौतुक-555💐
💐प्रेम कौतुक-555💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
हिंदू धर्म की यात्रा
हिंदू धर्म की यात्रा
Shekhar Chandra Mitra
कोई पूछे की ग़म है क्या?
कोई पूछे की ग़म है क्या?
Ranjana Verma
उम्र निकलती है जिसके होने में
उम्र निकलती है जिसके होने में
Anil Mishra Prahari
*जहां जिसका दाना पानी लिखा रहता है,समय उसे वहां पे बुलाता है
*जहां जिसका दाना पानी लिखा रहता है,समय उसे वहां पे बुलाता है
Shashi kala vyas
कलाकार की कला✨
कलाकार की कला✨
Skanda Joshi
ग़ज़ल
ग़ज़ल
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
घूँघट (घनाक्षरी)
घूँघट (घनाक्षरी)
Ravi Prakash
अब न वो आहें बची हैं ।
अब न वो आहें बची हैं ।
Arvind trivedi
Bahut hui lukka chhipi ,
Bahut hui lukka chhipi ,
Sakshi Tripathi
जन्म दिवस
जन्म दिवस
Jatashankar Prajapati
हम उनसे नहीं है भिन्न
हम उनसे नहीं है भिन्न
जगदीश लववंशी
"तांगा"
Dr. Kishan tandon kranti
कविताश्री
कविताश्री
Jeewan Singh 'जीवनसवारो'
मेरे दिल ने देखो ये क्या कमाल कर दिया
मेरे दिल ने देखो ये क्या कमाल कर दिया
shabina. Naaz
जनगणना मे मैथिली / Maithili in Population Census / जय मैथिली
जनगणना मे मैथिली / Maithili in Population Census / जय मैथिली
Binit Thakur (विनीत ठाकुर)
तुम्हारी आंखों का रंग हमे भाता है
तुम्हारी आंखों का रंग हमे भाता है
ठाकुर प्रतापसिंह "राणाजी"
पारख पूर्ण प्रणेता
पारख पूर्ण प्रणेता
प्रेमदास वसु सुरेखा
याद  में  ही तो जल रहा होगा
याद में ही तो जल रहा होगा
Sandeep Gandhi 'Nehal'
ये किस धर्म के लोग हैं
ये किस धर्म के लोग हैं
gurudeenverma198
सत्यबोध
सत्यबोध
Bodhisatva kastooriya
दोहे-
दोहे-
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
Loading...