Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
8 Aug 2019 · 1 min read

सुन्दरता है सस्ती ,चरित्र है महँगा –आर के रस्तोगी

सुन्दरता है सस्ती,चरित्र है महँगा |
घडी है सस्ती,अब समय है महँगा ||
कर ले बन्दे समय का सदुपयोग |
वर्ना जीवन काटना पड़ेगा महँगा ||

रिश्ता है सस्ता,निभाना है महँगा |
तोडना है सस्ता,जोड़ना है महँगा ||
जो एक बार टूट गया तेरा रिश्ता |
उसको पुनः बनाना पड़ेगा महँगा ||

प्यार जताना है सस्ता,करना है महँगा |
वादा करना है सस्ता,निभाना है महँगा ||
सोच समझ कर प्यार करना हे बन्दे |
बाद में पछताना पड़ेगा बहुत महँगा ||

आर के रस्तोगी

Language: Hindi
1 Like · 1 Comment · 409 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Ram Krishan Rastogi
View all
You may also like:
ਸੰਵਿਧਾਨ ਦੀ ਆਤਮਾ
ਸੰਵਿਧਾਨ ਦੀ ਆਤਮਾ
विनोद सिल्ला
*वह बिटिया थी*
*वह बिटिया थी*
Mukta Rashmi
शीर्षक - सोच और उम्र
शीर्षक - सोच और उम्र
Neeraj Agarwal
क्या कहूँ
क्या कहूँ
Ajay Mishra
तेरा हम परदेशी, कैसे करें एतबार
तेरा हम परदेशी, कैसे करें एतबार
gurudeenverma198
लोगों के दिलों में बसना चाहते हैं
लोगों के दिलों में बसना चाहते हैं
Harminder Kaur
महफिल में तनहा जले,
महफिल में तनहा जले,
sushil sarna
ज़िंदगी इम्तिहान
ज़िंदगी इम्तिहान
Dr fauzia Naseem shad
मानव हो मानवता धरो
मानव हो मानवता धरो
Mrs PUSHPA SHARMA {पुष्पा शर्मा अपराजिता}
विषय मेरा आदर्श शिक्षक
विषय मेरा आदर्श शिक्षक
कार्तिक नितिन शर्मा
सगीर गजल
सगीर गजल
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
जो रास्ते हमें चलना सीखाते हैं.....
जो रास्ते हमें चलना सीखाते हैं.....
कवि दीपक बवेजा
जीवन संगिनी
जीवन संगिनी
नवीन जोशी 'नवल'
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
प्राकृतिक के प्रति अपने कर्तव्य को,
प्राकृतिक के प्रति अपने कर्तव्य को,
goutam shaw
***वारिस हुई***
***वारिस हुई***
Dinesh Kumar Gangwar
माँ दुर्गा की नारी शक्ति
माँ दुर्गा की नारी शक्ति
कवि रमेशराज
पिछले पन्ने 10
पिछले पन्ने 10
Paras Nath Jha
"प्रतिष्ठा"
Dr. Kishan tandon kranti
*विश्व योग का दिन पावन, इक्कीस जून को आता(गीत)*
*विश्व योग का दिन पावन, इक्कीस जून को आता(गीत)*
Ravi Prakash
वार
वार
विनोद वर्मा ‘दुर्गेश’
प्रदूषण-जमघट।
प्रदूषण-जमघट।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
परिवार होना चाहिए
परिवार होना चाहिए
हिमांशु बडोनी (दयानिधि)
वक्त आने पर भ्रम टूट ही जाता है कि कितने अपने साथ है कितने न
वक्त आने पर भ्रम टूट ही जाता है कि कितने अपने साथ है कितने न
Ranjeet kumar patre
*जिंदगी के कुछ कड़वे सच*
*जिंदगी के कुछ कड़वे सच*
Sûrëkhâ
** गर्मी है पुरजोर **
** गर्मी है पुरजोर **
surenderpal vaidya
20, 🌻बसन्त पंचमी🌻
20, 🌻बसन्त पंचमी🌻
Dr Shweta sood
भीगे-भीगे मौसम में.....!!
भीगे-भीगे मौसम में.....!!
Kanchan Khanna
हाइकु : रोहित वेमुला की ’बलिदान’ आत्महत्या पर / मुसाफ़िर बैठा
हाइकु : रोहित वेमुला की ’बलिदान’ आत्महत्या पर / मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
■ क़तआ (मुक्तक)
■ क़तआ (मुक्तक)
*प्रणय प्रभात*
Loading...