Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
13 Jun 2023 · 1 min read

** सावन चला आया **

वर्षा ऋतु पर मुक्तक
*********************
***
रिमझिम बारिशों का क्रम लिए सावन चला आया।
मेघों से भरा नभ खूब सब के मन को है भाया।
बहुत उत्सुक हुआ है मन मिलन की चाहतें लेकर।
मौसम का मधुर उन्माद मन मस्तिष्क पर छाया।
***
जरा नजरें उठाकर आसमां की ओर देखो तुम।
घने बादल बहुत छाए घटा घनघोर देखो तुम।
मचलने दो शरारत से भरे मन के विचारों को।
छुपे दिल के किसी कोने में प्रिय चितचोर देखो तुम।
***
रिमझिम बौछारें लेकर अब सावन आया है।
शिव पूजन का भाव लिए अति पावन आया है।
जिनका शीश जटाओं से शोभित है महिमामय।
धारण कर गंगा सिर पर मनभावन आया है।
*********************
-सुरेन्द्रपाल वैद्य, मण्डी (हि.प्र.)

1 Like · 314 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from surenderpal vaidya
View all
You may also like:
Stop getting distracted by things that have nothing to do wi
Stop getting distracted by things that have nothing to do wi
पूर्वार्थ
धर्म की खिचड़ी
धर्म की खिचड़ी
विनोद सिल्ला
*जातक या संसार मा*
*जातक या संसार मा*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
झूठ भी कितना अजीब है,
झूठ भी कितना अजीब है,
नेताम आर सी
हिंदू-हिंदू भाई-भाई
हिंदू-हिंदू भाई-भाई
Shekhar Chandra Mitra
स्वतंत्रता और सीमाएँ - भाग 04 Desert Fellow Rakesh Yadav
स्वतंत्रता और सीमाएँ - भाग 04 Desert Fellow Rakesh Yadav
Desert fellow Rakesh
पलकों से रुसवा हुए, उल्फत के सब ख्वाब ।
पलकों से रुसवा हुए, उल्फत के सब ख्वाब ।
sushil sarna
23/216. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/216. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
"गुलशन"
Dr. Kishan tandon kranti
#आज_की_ग़ज़ल
#आज_की_ग़ज़ल
*Author प्रणय प्रभात*
एक तरफ
एक तरफ
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
ज़िंदा हूं
ज़िंदा हूं
Sanjay ' शून्य'
नव वर्ष मंगलमय हो
नव वर्ष मंगलमय हो
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
दलित साहित्य / ओमप्रकाश वाल्मीकि और प्रह्लाद चंद्र दास की कहानी के दलित नायकों का तुलनात्मक अध्ययन // आनंद प्रवीण//Anandpravin
दलित साहित्य / ओमप्रकाश वाल्मीकि और प्रह्लाद चंद्र दास की कहानी के दलित नायकों का तुलनात्मक अध्ययन // आनंद प्रवीण//Anandpravin
आनंद प्रवीण
ओमप्रकाश वाल्मीकि : व्यक्तित्व एवं कृतित्व
ओमप्रकाश वाल्मीकि : व्यक्तित्व एवं कृतित्व
Dr. Narendra Valmiki
आज का नेता
आज का नेता
Shyam Sundar Subramanian
दिवाली का संकल्प
दिवाली का संकल्प
Dr. Pradeep Kumar Sharma
मेरी लाज है तेरे हाथ
मेरी लाज है तेरे हाथ
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
राम नाम अतिसुंदर पथ है।
राम नाम अतिसुंदर पथ है।
Vijay kumar Pandey
बहुत बरस गुज़रने के बाद
बहुत बरस गुज़रने के बाद
शिव प्रताप लोधी
लोग हमसे ख़फा खफ़ा रहे
लोग हमसे ख़फा खफ़ा रहे
Surinder blackpen
मन को भाये इमली. खट्टा मीठा डकार आये
मन को भाये इमली. खट्टा मीठा डकार आये
Ranjeet kumar patre
💐प्रेम कौतुक-392💐
💐प्रेम कौतुक-392💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
चचा बैठे ट्रेन में [ व्यंग्य ]
चचा बैठे ट्रेन में [ व्यंग्य ]
कवि रमेशराज
*तेरे इंतज़ार में*
*तेरे इंतज़ार में*
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
दोहा
दोहा
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
छोड़ी घर की देहरी ,छोड़ा घर का द्वार (कुंडलिया)
छोड़ी घर की देहरी ,छोड़ा घर का द्वार (कुंडलिया)
Ravi Prakash
ఉగాది
ఉగాది
डॉ गुंडाल विजय कुमार 'विजय'
इश्क की वो  इक निशानी दे गया
इश्क की वो इक निशानी दे गया
Dr Archana Gupta
राधा की भक्ति
राधा की भक्ति
Dr. Upasana Pandey
Loading...