Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
16 Mar 2023 · 1 min read

💐प्रेम कौतुक-451💐

सदाक़त था मेरा इश्क़ मैं हूँ उसमें मतवाला,
जो समाया है मेरे दिल में उसका हूँ रखवाला,
हमें मतलब नहीं वो हमें याद करें या न करें,
उनकी दिल की दहलीज़ को छुआ,मैं हूँ हिम्मतवाला।

©®अभिषेक: पाराशरः “आनन्द”

Language: Hindi
329 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
मानव हो मानवता धरो
मानव हो मानवता धरो
Mrs PUSHPA SHARMA {पुष्पा शर्मा अपराजिता}
#ग़ज़ल-
#ग़ज़ल-
*Author प्रणय प्रभात*
"नहीं तैरने आता था तो"
Dr. Kishan tandon kranti
????????
????????
शेखर सिंह
नारी को सदा राखिए संग
नारी को सदा राखिए संग
Ram Krishan Rastogi
कभी कभी छोटी सी बात  हालात मुश्किल लगती है.....
कभी कभी छोटी सी बात हालात मुश्किल लगती है.....
Shashi kala vyas
सभी धर्म महान
सभी धर्म महान
RAKESH RAKESH
बस कट, पेस्ट का खेल
बस कट, पेस्ट का खेल
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
फूलों की बात हमारे,
फूलों की बात हमारे,
Neeraj Agarwal
प्रेम स्वतंत्र आज हैं?
प्रेम स्वतंत्र आज हैं?
The_dk_poetry
वसंततिलका छन्द
वसंततिलका छन्द
Neelam Sharma
बना चाँद का उड़न खटोला
बना चाँद का उड़न खटोला
Vedha Singh
जीवन के सुख दुख के इस चक्र में
जीवन के सुख दुख के इस चक्र में
ruby kumari
" सब किमे बदलग्या "
Dr Meenu Poonia
तुम कहो तो कुछ लिखूं!
तुम कहो तो कुछ लिखूं!
विकास सैनी The Poet
श्रद्धावान बनें हम लेकिन, रहें अंधश्रद्धा से दूर।
श्रद्धावान बनें हम लेकिन, रहें अंधश्रद्धा से दूर।
महेश चन्द्र त्रिपाठी
🌷मनोरथ🌷
🌷मनोरथ🌷
पंकज कुमार कर्ण
एक नासूर हो ही रहा दूसरा ज़ख्म फिर खा लिया।
एक नासूर हो ही रहा दूसरा ज़ख्म फिर खा लिया।
ओसमणी साहू 'ओश'
नारी है नारायणी
नारी है नारायणी
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
रक्तदान
रक्तदान
Dr. Pradeep Kumar Sharma
**** फागुन के दिन आ गईल ****
**** फागुन के दिन आ गईल ****
Chunnu Lal Gupta
मैं एक पल हूँ
मैं एक पल हूँ
Swami Ganganiya
3258.*पूर्णिका*
3258.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
कान खोलकर सुन लो
कान खोलकर सुन लो
Shekhar Chandra Mitra
पाश्चात्यता की होड़
पाश्चात्यता की होड़
Mukesh Kumar Sonkar
हिंदी दोहा शब्द - भेद
हिंदी दोहा शब्द - भेद
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
*न्याय-व्यवस्था : आठ दोहे*
*न्याय-व्यवस्था : आठ दोहे*
Ravi Prakash
चिंपू गधे की समझदारी - कहानी
चिंपू गधे की समझदारी - कहानी
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
एक लम्हा भी
एक लम्हा भी
Dr fauzia Naseem shad
Life is too short to admire,
Life is too short to admire,
Sakshi Tripathi
Loading...