Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
22 Apr 2023 · 1 min read

वफादारी का ईनाम

जो इसने निभाई वक़्त पर
पूरी बेशर्मी से खुलेआम!
शाह ने मुंसिफ को दिया है
उसी वफादारी का ईनाम!
अपने देश और समाज के
जलते हुए मूद्दों के बाबत!
नीलाम कर अपना ज़मीर
या बेचकर अपना ईमान!
#अदालत #इंसाफ #राजनीति
#दरबारी #साजिश #गठजोड़
#SupremeCourt #politics
#Judge #चापलूसी #जी_हजूरी

Language: Hindi
334 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
+जागृत देवी+
+जागृत देवी+
Ms.Ankit Halke jha
शिर्डी के साईं बाबा
शिर्डी के साईं बाबा
Sidhartha Mishra
#व्यंग्य-
#व्यंग्य-
*Author प्रणय प्रभात*
मोबाइल
मोबाइल
हिमांशु बडोनी (दयानिधि)
10. जिंदगी से इश्क कर
10. जिंदगी से इश्क कर
Rajeev Dutta
-0 सुविचार 0-
-0 सुविचार 0-
विनोद कृष्ण सक्सेना, पटवारी
ग़ज़ल कहूँ तो मैं ‘असद’, मुझमे बसते ‘मीर’
ग़ज़ल कहूँ तो मैं ‘असद’, मुझमे बसते ‘मीर’
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
तुम्हारे  रंग  में  हम  खुद  को  रंग  डालेंगे
तुम्हारे रंग में हम खुद को रंग डालेंगे
shabina. Naaz
कविता: सपना
कविता: सपना
Rajesh Kumar Arjun
फुटपाथों पर लोग रहेंगे
फुटपाथों पर लोग रहेंगे
Chunnu Lal Gupta
रचो महोत्सव
रचो महोत्सव
लक्ष्मी सिंह
आंख में बेबस आंसू
आंख में बेबस आंसू
Dr. Rajeev Jain
"आधुनिक नारी"
Ekta chitrangini
2692.*पूर्णिका*
2692.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
खुशनुमा – खुशनुमा सी लग रही है ज़मीं
खुशनुमा – खुशनुमा सी लग रही है ज़मीं
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
*माँ : 7 दोहे*
*माँ : 7 दोहे*
Ravi Prakash
प्रबुद्ध प्रणेता अटल जी
प्रबुद्ध प्रणेता अटल जी
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
अपनी जिंदगी मे कुछ इस कदर मदहोश है हम,
अपनी जिंदगी मे कुछ इस कदर मदहोश है हम,
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
* कुण्डलिया *
* कुण्डलिया *
surenderpal vaidya
दोस्त न बन सकी
दोस्त न बन सकी
Satish Srijan
गीतिका।
गीतिका।
Pankaj sharma Tarun
ईश्वर का उपहार है बेटी, धरती पर भगवान है।
ईश्वर का उपहार है बेटी, धरती पर भगवान है।
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
Even If I Ever Died
Even If I Ever Died
Manisha Manjari
एक डरा हुआ शिक्षक एक रीढ़विहीन विद्यार्थी तैयार करता है, जो
एक डरा हुआ शिक्षक एक रीढ़विहीन विद्यार्थी तैयार करता है, जो
Ranjeet kumar patre
"सूप"
Dr. Kishan tandon kranti
हम तो फ़िदा हो गए उनकी आँखे देख कर,
हम तो फ़िदा हो गए उनकी आँखे देख कर,
Vishal babu (vishu)
*****रामलला*****
*****रामलला*****
Kavita Chouhan
वक्त का इंतजार करो मेरे भाई
वक्त का इंतजार करो मेरे भाई
Yash mehra
और चौथा ???
और चौथा ???
SHAILESH MOHAN
पुनर्जन्माचे सत्य
पुनर्जन्माचे सत्य
Shyam Sundar Subramanian
Loading...