Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
22 Feb 2024 · 1 min read

गणेश आये

रूनझुन सी पायलिया बाजे
नन्हें नन्हें कदमों से चलके
सारे जग में धूम मचाने
सबके दुलारे गणेश आये।

विघ्नेश, मंगलकर्ता,सिद्धिदाता
भक्त के वे ही भाग्य विधाता
वक्रतुंड,एकदंत कहलाते
मोदक उनको बहुत भाते

विनायक,गजानन,गणपति यूँ
नाम अनगिनत उनके सारे
भोली सूरत सुंदर मूरत सी
रम्य अँखियाँ नयन मतवारे

देवों में प्रथम कहलाते
सबसे पहले पूजे जाते
स्वागत की तैयारी करना
घर मंदिर सा पावन रखना

रोशन हुए यूँ घर व द्वारे
गणेश है हम सबके प्यारे
चंहुओर आज खुशियाँ छाई
है निर्मल,मंगल बेला आई

आओ वंदनवार लगायें
मोदक लड्डू से थाल सजायें
आगमन की तैयारी कर लो
हॄदय में नव उमंग भर लो

घड़ियाँ यूँ बीत जायेगी
नयनों में नमी भी लायेगी
स्नेह,प्रेम तुम भीतर भरके
मन कर्म से ही पूजन करना

भवन का हर कोना सजायें
आओ एकदंत को बुलायें
दूर्वा,पान,सुपारी चढाते
बीते दिन ये हँसते गाते

ढोल,नगाड़े,ताशे बजाना
बप्पा मोरिया कहते जाना
धीमे पग से शुभता लाये
मंगलमूर्ति गणेश आये।।

✍️”कविता चौहान ”
स्वरचित एवं मौलिक

40 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
घनाक्षरी छंद
घनाक्षरी छंद
Rajesh vyas
सागर सुखा है अपनी मर्जी से..
सागर सुखा है अपनी मर्जी से..
कवि दीपक बवेजा
चोरबत्ति (मैथिली हायकू)
चोरबत्ति (मैथिली हायकू)
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
इस धरा पर अगर कोई चीज आपको रुचिकर नहीं लगता है,तो इसका सीधा
इस धरा पर अगर कोई चीज आपको रुचिकर नहीं लगता है,तो इसका सीधा
Paras Nath Jha
पर्यावरण
पर्यावरण
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
ज़िंदगी को इस तरह भी
ज़िंदगी को इस तरह भी
Dr fauzia Naseem shad
औरों की उम्मीदों में
औरों की उम्मीदों में
DEVSHREE PAREEK 'ARPITA'
मां का आंचल(Happy mothers day)👨‍👩‍👧‍👧
मां का आंचल(Happy mothers day)👨‍👩‍👧‍👧
Ms.Ankit Halke jha
2950.*पूर्णिका*
2950.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
स्टेटस
स्टेटस
Dr. Pradeep Kumar Sharma
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
DR ARUN KUMAR SHASTRI
फिर बैठ गया हूं, सांझ के साथ
फिर बैठ गया हूं, सांझ के साथ
Smriti Singh
मरीचिका
मरीचिका
लक्ष्मी सिंह
सविनय अभिनंदन करता हूॅं हिंदुस्तानी बेटी का
सविनय अभिनंदन करता हूॅं हिंदुस्तानी बेटी का
महेश चन्द्र त्रिपाठी
قفس میں جان جائے گی ہماری
قفس میں جان جائے گی ہماری
Simmy Hasan
#मुक्तक-
#मुक्तक-
*Author प्रणय प्रभात*
ऑनलाइन पढ़ाई
ऑनलाइन पढ़ाई
Rajni kapoor
सच तो तस्वीर,
सच तो तस्वीर,
Neeraj Agarwal
ऐसा कहा जाता है कि
ऐसा कहा जाता है कि
Naseeb Jinagal Koslia नसीब जीनागल कोसलिया
गर समझते हो अपने स्वदेश को अपना घर
गर समझते हो अपने स्वदेश को अपना घर
ओनिका सेतिया 'अनु '
!!
!! "सुविचार" !!
विनोद कृष्ण सक्सेना, पटवारी
एक हसीं ख्वाब
एक हसीं ख्वाब
Mamta Rani
कुछ बिखरे ख्यालों का मजमा
कुछ बिखरे ख्यालों का मजमा
Dr. Harvinder Singh Bakshi
आने वाले कल का ना इतना इंतजार करो ,
आने वाले कल का ना इतना इंतजार करो ,
Neerja Sharma
*कोटि-कोटि हे जय गणपति हे, जय जय देव गणेश (गीतिका)*
*कोटि-कोटि हे जय गणपति हे, जय जय देव गणेश (गीतिका)*
Ravi Prakash
अधि वर्ष
अधि वर्ष
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
संत एकनाथ महाराज
संत एकनाथ महाराज
Pravesh Shinde
दिल रंज का शिकार है और किस क़दर है आज
दिल रंज का शिकार है और किस क़दर है आज
Sarfaraz Ahmed Aasee
💐प्रेम कौतुक-532💐
💐प्रेम कौतुक-532💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
गाली भरी जिंदगी
गाली भरी जिंदगी
Dr MusafiR BaithA
Loading...