Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
21 Jun 2023 · 1 min read

“‘मोम” वालों के

“‘मोम” वालों के
“ओम” से गुरेज़ पर
ताज्जुब क्यों…?
(मानसिक गुलाम)

■प्रणय प्रभात■

1 Like · 151 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
झुका के सर, खुदा की दर, तड़प के रो दिया मैने
झुका के सर, खुदा की दर, तड़प के रो दिया मैने
Kumar lalit
ऐ महबूब
ऐ महबूब
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
बेबाक ज़िन्दगी
बेबाक ज़िन्दगी
Neelam Sharma
3157.*पूर्णिका*
3157.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
होली गीत
होली गीत
Kanchan Khanna
कैसा दौर है ये क्यूं इतना शोर है ये
कैसा दौर है ये क्यूं इतना शोर है ये
Monika Verma
■ और क्या चाहिए...?
■ और क्या चाहिए...?
*Author प्रणय प्रभात*
सागर-मंथन की तरह, मथो स्वयं को रोज
सागर-मंथन की तरह, मथो स्वयं को रोज
डॉ.सीमा अग्रवाल
*कितनी बार कैलेंडर बदले, साल नए आए हैं (हिंदी गजल)*
*कितनी बार कैलेंडर बदले, साल नए आए हैं (हिंदी गजल)*
Ravi Prakash
पर्वत दे जाते हैं
पर्वत दे जाते हैं
हिमांशु बडोनी (दयानिधि)
एक पत्नी अपने पति को तन मन धन बड़ी सहजता से सौंप देती है देत
एक पत्नी अपने पति को तन मन धन बड़ी सहजता से सौंप देती है देत
Annu Gurjar
कितना बदल रहे हैं हम ?
कितना बदल रहे हैं हम ?
Dr fauzia Naseem shad
ज्यों ही धरती हो जाती है माता
ज्यों ही धरती हो जाती है माता
ruby kumari
माँ वीणा वरदायिनी, बनकर चंचल भोर ।
माँ वीणा वरदायिनी, बनकर चंचल भोर ।
जगदीश शर्मा सहज
पूजा
पूजा
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
लड़का पति बनने के लिए दहेज मांगता है चलो ठीक है
लड़का पति बनने के लिए दहेज मांगता है चलो ठीक है
शेखर सिंह
"अगर"
Dr. Kishan tandon kranti
चौबीस घन्टे साथ में
चौबीस घन्टे साथ में
Satish Srijan
Jo mila  nahi  wo  bhi  theek  hai.., jo  hai  mil  gaya   w
Jo mila nahi wo bhi theek hai.., jo hai mil gaya w
Rekha Rajput
रहे_ ना _रहे _हम सलामत रहे वो,
रहे_ ना _रहे _हम सलामत रहे वो,
कृष्णकांत गुर्जर
औरत तेरी गाथा
औरत तेरी गाथा
विजय कुमार अग्रवाल
শহরের মেঘ শহরেই মরে যায়
শহরের মেঘ শহরেই মরে যায়
Rejaul Karim
मंजिल
मंजिल
Dr. Pradeep Kumar Sharma
🇭🇺 झाँसी की वीरांगना
🇭🇺 झाँसी की वीरांगना
Pt. Brajesh Kumar Nayak
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
Ghazal
Ghazal
shahab uddin shah kannauji
दरबारी फनकार
दरबारी फनकार
Shekhar Chandra Mitra
हिन्दी दोहा शब्द- फूल
हिन्दी दोहा शब्द- फूल
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
जिज्ञासा
जिज्ञासा
Neeraj Agarwal
हिंदी
हिंदी
नन्दलाल सुथार "राही"
Loading...