Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

मुझे चलना है बस चलने दो

मै राह चला हूँ प्रीत मिलन की
मुझे चलना है बस चलने दो ||

प्रीत लगी जब दिव्य ओज से
उस ओज मे जाकर मिलना है
मोह पतंगे को ज्वाला का
ज्योति मे जाकर जलना है
मन को निर्मल करने मे
तन जलता है तो जलने दो |
मै राह चला हूँ प्रीत मिलन की
मुझे चलना है बस चलने दो ||

हर एक बूँद का लक्ष्य नही
सागर मे विलीन हो जाना
जीवन दायिनि बनने के लिए
कुछ का घरा मे खो जाना
जीवन देने की चाहत मे
अस्तित्व खोता है तो खोने दो |
मै राह चला हूँ प्रीत मिलन की
मुझे चलना है बस चलने दो ||

शून्य से द्विगुणित होकर
हर अंक शून्य बन जाता है
श्याम विविर मे मिल करके
हर रंग श्याम बन जाता है
श्याम मिलन की चाहत मे
रंग ढलता है तो ढलने दो |
मै राह चला हूँ प्रीत मिलन की
मुझे चलना है बस चलने दो ||

दरिया को पार करने मे
पैरो पर कीचड़ लगता है
लेकिन पथिक कब राहो की
कठिनाइयो से डरता है
मिट्टी की इस काया पर
कीचड़ लगता है तो लगने दो |
मै राह चला हूँ प्रीत मिलन की
मुझे चलना है बस चलने दो||

209 Views
You may also like:
कलम
Dr Meenu Poonia
रोज हम इम्तिहां दे सकेंगे नहीं
Dr Archana Gupta
उपज खोती खेती
विनोद सिल्ला
बहते अश्कों से पूंछो।
Taj Mohammad
मेरे बेटे ने
Dhirendra Panchal
सुन्दर घर
Buddha Prakash
घर की इज्ज़त।
Taj Mohammad
जगाओ हिम्मत और विश्वास तुम
gurudeenverma198
मयंक के जन्मदिन पर बधाई
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
*रामपुर रजा लाइब्रेरी में रक्षा-ऋषि लेफ्टिनेंट जनरल श्री वी. के....
Ravi Prakash
दिनेश कार्तिक
ब्रजनंदन कुमार 'विमल'
उसको बता दो।
Taj Mohammad
लकड़ी में लड़की / (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
हमारें रिश्ते का नाम।
Taj Mohammad
बद्दुआ।
Taj Mohammad
✍️जगात कोटि कोटिचा मान असते✍️
"अशांत" शेखर
💐प्रेम की राह पर-34💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
*पार्क में योग (कहानी)*
Ravi Prakash
सफलता की कुंजी ।
Anamika Singh
$$पिता$$
दिनेश एल० "जैहिंद"
✍️इरादे हो तूफाँ के✍️
"अशांत" शेखर
I feel h
Swami Ganganiya
मेरा गुरूर है पिता
VINOD KUMAR CHAUHAN
💐उत्कर्ष💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
एक दिन तू भी।
Taj Mohammad
**यादों की बारिशने रुला दिया **
Dr. Alpa H. Amin
अखंड भारत की गौरव गाथा।
Taj Mohammad
किसी पथ कि , जरुरत नही होती
Ram Ishwar Bharati
" शीतल कूलर
Dr Meenu Poonia
ये कैसा धर्मयुद्ध है केशव (युधिष्ठर संताप )
VINOD KUMAR CHAUHAN
Loading...