Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
11 Feb 2024 · 1 min read

माँ तेरे दर्शन की अँखिया ये प्यासी है

माँ तेरे, दर्शन की अँखिया ये प्यासी है ।
दर्शन दिखा दे माँ, अर्ज ये हमारी है।।

तेरे दर पे भक्तो की, भीर बड़ी भारी है
निसहाय, निर्धन, निर्बल आया भिखाड़ी है।
माँ तेरी दर्शन की अँखिया ये प्यासी है ।।

अंधकार जीवन में तू, ज्योति जगमगायी है
मुझे भी दिखाओ माँ, क्यों दुःख में डुबाई है।
माँ तेरी दर्शन की अँखिया ये प्यासी है ।।

जग की है जननी तू, तूही महामाई है
कौन ना है जग में, जो महिमा ना गाई है।
माँ तेरी दर्शन की अँखिया ये प्यासी है ।।

✍️ बसंत भगवान राय
(धुन: जिंदगी के राहों में रंजो गम के मेले है)

Language: Hindi
Tag: गीत
124 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Basant Bhagawan Roy
View all
You may also like:
रिश्तों की कसौटी
रिश्तों की कसौटी
VINOD CHAUHAN
मजदूर है हम
मजदूर है हम
Dinesh Kumar Gangwar
आइये - ज़रा कल की बात करें
आइये - ज़रा कल की बात करें
Atul "Krishn"
दोस्ती
दोस्ती
Neeraj Agarwal
सीमा प्रहरी
सीमा प्रहरी
लक्ष्मी सिंह
यादों के तटबंध ( समीक्षा)
यादों के तटबंध ( समीक्षा)
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
*मैंने देखा है * ( 18 of 25 )
*मैंने देखा है * ( 18 of 25 )
Kshma Urmila
Sahityapedia
Sahityapedia
भरत कुमार सोलंकी
3193.*पूर्णिका*
3193.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
खुद के हाथ में पत्थर,दिल शीशे की दीवार है।
खुद के हाथ में पत्थर,दिल शीशे की दीवार है।
Priya princess panwar
शिकवा
शिकवा
अखिलेश 'अखिल'
*जी रहें हैँ जिंदगी किस्तों में*
*जी रहें हैँ जिंदगी किस्तों में*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
■ अटल सत्य...
■ अटल सत्य...
*प्रणय प्रभात*
बाल कविता: हाथी की दावत
बाल कविता: हाथी की दावत
Rajesh Kumar Arjun
चुनिंदा अश'आर
चुनिंदा अश'आर
Dr fauzia Naseem shad
"तहजीब"
Dr. Kishan tandon kranti
डॉ. ध्रुव की दृष्टि में कविता का अमृतस्वरूप
डॉ. ध्रुव की दृष्टि में कविता का अमृतस्वरूप
कवि रमेशराज
मेरे प्रभु राम आए हैं
मेरे प्रभु राम आए हैं
PRATIBHA ARYA (प्रतिभा आर्य )
खद्योत हैं
खद्योत हैं
Sanjay ' शून्य'
*भरत राम के पद अनुरागी (चौपाइयॉं)*
*भरत राम के पद अनुरागी (चौपाइयॉं)*
Ravi Prakash
नवम दिवस सिद्धिधात्री,
नवम दिवस सिद्धिधात्री,
Neelam Sharma
नहीं मैं -गजल
नहीं मैं -गजल
Dr Mukesh 'Aseemit'
सुलोचना
सुलोचना
Santosh kumar Miri
आस
आस
Shyam Sundar Subramanian
मेरा भारत महान --
मेरा भारत महान --
Seema Garg
जब तुम हारने लग जाना,तो ध्यान करना कि,
जब तुम हारने लग जाना,तो ध्यान करना कि,
पूर्वार्थ
बापू
बापू
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
बेटियां!दोपहर की झपकी सी
बेटियां!दोपहर की झपकी सी
Manu Vashistha
फ्राॅड की कमाई
फ्राॅड की कमाई
Punam Pande
बढ़ती हुई समझ
बढ़ती हुई समझ
शेखर सिंह
Loading...