Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
12 Feb 2024 · 2 min read

बचपन और गांव

कागज़ कि कस्ती बारिस का पानी गलियों मोहल्लों कि लम्हों कि दरिया ख्वाबों ख़यालों का ही समन्दर् !!

सावन कि रिम झिम भीगा वदन सांसों में गर्मी दिल धड़कन कि धक धक मोहब्बत कि मस्ती का हमसफर !!

चाँद कि चाँदनी मद्धम सर्द हवाए जुल्फों का हिजाब मौसम खूबसूरत चाँद कि बेकरारी का इंतजार!!

कोयल कि कु कु मुर्गे कि वान इंतज़ार में बदलते करवतो कि मुराद जिंदगी के सुबह कि आशा का सफर !!

पीपल कि छाँव हरियाली खुशहाली का रास्ता वास्ता नदिया की धारा तूफा नादान दिल कि पुकार नादा दिल कि चाहत का कारवां मुकद्दर !!

चला जाता यूं ही, चाहत के तरानों में नहीं किसी रिश्ते का एकरार !!

नज़रों का बया उसका नंगे पाव का अंदाज़ बेकरारी बहाना नदी के किनारों का मिलने की चाहत में चलना साथ साथ बचपन कि चाहत याराना !!

त्योहारों में तीरछी कातिल नज़र खास बिना पीए ही नशा लाख पैमाने का जुनून मुबारक कदमों कि हलचल खुशियां ।।

होली का रंगीन चेहरा दिवाली का रौशन चेहरा ईद का मुस्कान चेहरा मेलों में संग नाज़ चेहरा अरमानों का साथ चेहरा उम्मीद का चिराग चेहरा!!

स्कूल में साथ साथ जाना क्लास में छुप छुप निगाहों का मिलना गुरुओं का गुस्सा एक दूजे कि कम्मो के इम्तेहा इम्तेहान का कश्मकश!!

माँ बाप कि नाराजगी का किस्सा कभी डर से लम्हा भी सदियों के जैसा!!

छुट्टी के दिन चमन बहार लम्हों का आईना आम के बाग तपती दोपहर से शाम ना ख़त्म होने वाली बात का सिलसिला लगातार !!

शादियों कि बरातो मैं सजना, सवरना दुनिया कि चाहत का ताना बाना ।।

भैया की भाभी आती दीदी जीजा संग जाती बचपन कि अनजानी कशिश मुझसे ही करती सवाल ।।

बितेगा हर लम्हा तेरे संग दुनिया के ख्वाब सजाते आएग कोई सहजादा ले जाएगा मुझको तोड़ के बचपन के रिश्ते नाते!!

क्या कहूं मै बचपन कि शोखी शरारत या कमसिन नदा नाजुक भोली का धोखा प्यार या जिंदगी कि यादें जीने का बहाना अफसाना !!

Language: Hindi
51 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
View all
You may also like:
कबीर एवं तुलसीदास संतवाणी
कबीर एवं तुलसीदास संतवाणी
Khaimsingh Saini
अर्ज है पत्नियों से एक निवेदन करूंगा
अर्ज है पत्नियों से एक निवेदन करूंगा
शेखर सिंह
🙏 *गुरु चरणों की धूल*🙏
🙏 *गुरु चरणों की धूल*🙏
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
#आज_का_सबक़
#आज_का_सबक़
*Author प्रणय प्रभात*
देख तो ऋतुराज
देख तो ऋतुराज
हिमांशु बडोनी (दयानिधि)
भूले से हमने उनसे
भूले से हमने उनसे
Sunil Suman
फिर वही शाम ए गम,
फिर वही शाम ए गम,
ओनिका सेतिया 'अनु '
इतिहास
इतिहास
Dr.Priya Soni Khare
चट्टानी अडान के आगे शत्रु भी झुक जाते हैं, हौसला बुलंद हो तो
चट्टानी अडान के आगे शत्रु भी झुक जाते हैं, हौसला बुलंद हो तो
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
सांझा चूल्हा4
सांझा चूल्हा4
umesh mehra
शीर्षक - कुदरत के रंग...... एक सच
शीर्षक - कुदरत के रंग...... एक सच
Neeraj Agarwal
धूल से ही उत्सव हैं,
धूल से ही उत्सव हैं,
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
“आँख के बदले आँख पूरी दुनिया को अँधा बना देगी”- गांधी जी
“आँख के बदले आँख पूरी दुनिया को अँधा बना देगी”- गांधी जी
डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
"बेहतर"
Dr. Kishan tandon kranti
संदेश
संदेश
Shyam Sundar Subramanian
गुरु और गुरू में अंतर
गुरु और गुरू में अंतर
Subhash Singhai
फोन नंबर
फोन नंबर
पूर्वार्थ
उम्र  बस यूँ ही गुज़र रही है
उम्र बस यूँ ही गुज़र रही है
Atul "Krishn"
दुनिया की अनोखी पुस्तक सौरभ छंद सरोवर का हुआ विमोचन
दुनिया की अनोखी पुस्तक सौरभ छंद सरोवर का हुआ विमोचन
The News of Global Nation
स्वयं का न उपहास करो तुम , स्वाभिमान की राह वरो तुम
स्वयं का न उपहास करो तुम , स्वाभिमान की राह वरो तुम
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
We Would Be Connected Actually
We Would Be Connected Actually
Manisha Manjari
Bundeli Doha-Anmane
Bundeli Doha-Anmane
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
*अभी भी शादियों में खर्च, सबकी प्राथमिकता है (मुक्तक)*
*अभी भी शादियों में खर्च, सबकी प्राथमिकता है (मुक्तक)*
Ravi Prakash
लक्ष्मी अग्रिम भाग में,
लक्ष्मी अग्रिम भाग में,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
यादें मोहब्बत की
यादें मोहब्बत की
Mukesh Kumar Sonkar
शबे दर्द जाती नही।
शबे दर्द जाती नही।
Taj Mohammad
छलावा
छलावा
Sushmita Singh
मिसाइल मैन को नमन
मिसाइल मैन को नमन
Dr. Rajeev Jain
हम समुंदर का है तेज, वह झरनों का निर्मल स्वर है
हम समुंदर का है तेज, वह झरनों का निर्मल स्वर है
Shubham Pandey (S P)
Loading...