Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
18 Mar 2023 · 1 min read

“नया अवतार”

“नया अवतार”
फिजूलखर्ची ने ले लिया है
एक नया अवतार,
शादी रहे कि जन्म-जयन्ती
लगाते डीजे हरबार।
फिर कानफोड़ू डीजे की धुन में
नाच-नाच करते नशा,
थकहार कर हो जाते फिर
जानवर सी दशा।

5 Likes · 2 Comments · 460 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr. Kishan tandon kranti
View all
You may also like:
मैं कितना अकेला था....!
मैं कितना अकेला था....!
भवेश
बहुत दिनों के बाद मिले हैं हम दोनों
बहुत दिनों के बाद मिले हैं हम दोनों
Shweta Soni
चंद्रयान 3
चंद्रयान 3
Dr.Priya Soni Khare
बेशर्मी के हौसले
बेशर्मी के हौसले
RAMESH SHARMA
क्या जानते हो ----कुछ नही ❤️
क्या जानते हो ----कुछ नही ❤️
Rohit yadav
दिल
दिल
Neeraj Agarwal
दिलकश
दिलकश
Vandna Thakur
परफेक्ट बनने के लिए सबसे पहले खुद में झांकना पड़ता है, स्वयं
परफेक्ट बनने के लिए सबसे पहले खुद में झांकना पड़ता है, स्वयं
Seema gupta,Alwar
बंद करो अब दिवसीय काम।
बंद करो अब दिवसीय काम।
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
एक गुजारिश तुझसे है
एक गुजारिश तुझसे है
Buddha Prakash
!! मेरी विवशता !!
!! मेरी विवशता !!
Akash Yadav
जान हो तुम ...
जान हो तुम ...
SURYA PRAKASH SHARMA
*भाया राधा को सहज, सुंदर शोभित मोर (कुंडलिया)*
*भाया राधा को सहज, सुंदर शोभित मोर (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
लिबास -ए – उम्मीद सुफ़ेद पहन रक्खा है
लिबास -ए – उम्मीद सुफ़ेद पहन रक्खा है
सिद्धार्थ गोरखपुरी
एक महिला से तीन तरह के संबंध रखे जाते है - रिश्तेदार, खुद के
एक महिला से तीन तरह के संबंध रखे जाते है - रिश्तेदार, खुद के
Rj Anand Prajapati
मंजिल छूते कदम
मंजिल छूते कदम
Arti Bhadauria
★मां ★
★मां ★
★ IPS KAMAL THAKUR ★
2601.पूर्णिका
2601.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
हरि लापता है, ख़ुदा लापता है
हरि लापता है, ख़ुदा लापता है
Artist Sudhir Singh (सुधीरा)
"फूल"
Dr. Kishan tandon kranti
"किसान"
Slok maurya "umang"
सधे कदम
सधे कदम
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
कर्मों से ही होती है पहचान इंसान की,
कर्मों से ही होती है पहचान इंसान की,
शेखर सिंह
सफर है! रात आएगी
सफर है! रात आएगी
Saransh Singh 'Priyam'
कुछ खामोशियाँ तुम ले आना।
कुछ खामोशियाँ तुम ले आना।
Manisha Manjari
ॐ
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
स्वयं को तुम सम्मान दो
स्वयं को तुम सम्मान दो
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
तुम्हारे दीदार की तमन्ना
तुम्हारे दीदार की तमन्ना
Anis Shah
मिट्टी के परिधान सब,
मिट्टी के परिधान सब,
sushil sarna
महायज्ञ।
महायज्ञ।
Acharya Rama Nand Mandal
Loading...