Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
20 Dec 2022 · 1 min read

धन

धन के पीछे भाग रहा है,ये सारा संसार
रूप धरा पर धन के देखे, रूप हैं कई हजार
आकर्षण धन का बड़ा, और बड़ा व्यापार
और बड़े धनवान हों, सबको एक विचार
धन सत्ता और बाहुबल, करते हैं तकरार
नहीं बढ़ा मुझसे कोई,अहं की है भरमार
जीवन जीने के लिए,अन्न की है दरकार
अन्न धन सबसे बड़ा, ईश्वर का उपहार
गोधन गजधन वाज धन, हीरे मोती के हार
आदिकाल से ही रहे,हर मनुष्य का प्यार
भूपति होने का रहा, साम्राज्यवादी विचार
रूप सौंदर्य काम की,चाहत सब संसार
धन पद वैभव लालसा, बढ़ा रही व्यभिचार
धन की चाहत में बढ़ रहा,धरा पर भ़ष्टाचार
विद्या धन है परम धन,हरती सभी विकार
प़कट करे संतोष धन,सारे धन लगें असार
सुरेश कुमार चतुर्वेदी

2 Likes · 357 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from सुरेश कुमार चतुर्वेदी
View all
You may also like:
"मत पूछो"
Dr. Kishan tandon kranti
3501.🌷 *पूर्णिका* 🌷
3501.🌷 *पूर्णिका* 🌷
Dr.Khedu Bharti
कब भोर हुई कब सांझ ढली
कब भोर हुई कब सांझ ढली
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
भारत के बीर सपूत
भारत के बीर सपूत
Dinesh Kumar Gangwar
विचार
विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
कोई किसी से सुंदरता में नहीं कभी कम होता है
कोई किसी से सुंदरता में नहीं कभी कम होता है
Shweta Soni
*कुंडी पहले थी सदा, दरवाजों के साथ (कुंडलिया)*
*कुंडी पहले थी सदा, दरवाजों के साथ (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
इश्क़ और इंकलाब
इश्क़ और इंकलाब
Shekhar Chandra Mitra
एक तरफ
एक तरफ
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
मैं निकल गया तेरी महफिल से
मैं निकल गया तेरी महफिल से
VINOD CHAUHAN
इतनी खुबसुरत हो तुम
इतनी खुबसुरत हो तुम
Diwakar Mahto
Hasta hai Chehra, Dil Rota bahut h
Hasta hai Chehra, Dil Rota bahut h
Kumar lalit
रास्ते पर कांटे बिछे हो चाहे, अपनी मंजिल का पता हम जानते है।
रास्ते पर कांटे बिछे हो चाहे, अपनी मंजिल का पता हम जानते है।
Yogi Yogendra Sharma : Motivational Speaker
देवा श्री गणेशा
देवा श्री गणेशा
Mukesh Kumar Sonkar
"पापा की परी"
Yogendra Chaturwedi
चंचल पंक्तियाँ
चंचल पंक्तियाँ
Saransh Singh 'Priyam'
दिल की धड़कन भी तुम सदा भी हो । हो मेरे साथ तुम जुदा भी हो ।
दिल की धड़कन भी तुम सदा भी हो । हो मेरे साथ तुम जुदा भी हो ।
Neelam Sharma
स्टेटस
स्टेटस
Dr. Pradeep Kumar Sharma
"अलग -थलग"
DrLakshman Jha Parimal
खूब ठहाके लगा के बन्दे !
खूब ठहाके लगा के बन्दे !
Akash Yadav
शिक्षा सकेचन है व्यक्तित्व का,पैसा अधिरूप है संरचना का
शिक्षा सकेचन है व्यक्तित्व का,पैसा अधिरूप है संरचना का
पूर्वार्थ
माँ का आशीर्वाद पकयें
माँ का आशीर्वाद पकयें
Pratibha Pandey
आप वक्त को थोड़ा वक्त दीजिए वह आपका वक्त बदल देगा ।।
आप वक्त को थोड़ा वक्त दीजिए वह आपका वक्त बदल देगा ।।
लोकेश शर्मा 'अवस्थी'
अकेले आए हैं ,
अकेले आए हैं ,
Shutisha Rajput
शुभ रात्रि मित्रों
शुभ रात्रि मित्रों
आर.एस. 'प्रीतम'
इस राह चला,उस राह चला
इस राह चला,उस राह चला
TARAN VERMA
अंधेरा कभी प्रकाश को नष्ट नहीं करता
अंधेरा कभी प्रकाश को नष्ट नहीं करता
हिमांशु Kulshrestha
हम अक्षम हो सकते हैं
हम अक्षम हो सकते हैं
*प्रणय प्रभात*
निकले थे चांद की तलाश में
निकले थे चांद की तलाश में
Dushyant Kumar Patel
अमरत्व
अमरत्व
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
Loading...