Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
30 Oct 2016 · 1 min read

दीपावली

दीप जलाओ द्वार सजाओ खुशी मनाओ मिल कर आज ।
आई दिवाली लाई खुशहाली दीप जलेंगे हर घर आज ॥
सारा देश यूं झूम रहा है,हर घर दीपों से सजा हुआ है आज।
खूब पटाखे जला चला कर सब भैया दिवाली मनाएं आज।।
हर घर के द्वार पर सजे रंगोली स्वागत आप सभी का मेरे द्वार ।
मिल जुल कर सब खुशी मनाए और सरहद तक फैला दे प्यार।।
देश के कोने कोने में गूंज रही है चारों ओर पटाखों की भरमार।
दिल खोल सब मिल बांट रहे है घर घर में मिठाई और प्यार।।
मेरा हरेक दिया है समर्पित आज देश के उस रक्षक को ।
जिसके बल पर मना रहा हूँ मै दिवाली अपने घर पर आज।।
कहे विजय बिजनौरी यह देश का सबसे प्यारा है त्योहार।
देश विदेश के जन मानस में फैलता दीपावली पर प्यार ही प्यार।।

विजय कुमार अग्रवाल
विजय बिजनौरी।

Language: Hindi
3 Likes · 549 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from विजय कुमार अग्रवाल
View all
You may also like:
अगनित अभिलाषा
अगनित अभिलाषा
Dr. Meenakshi Sharma
बर्दाश्त की हद
बर्दाश्त की हद
Shekhar Chandra Mitra
विचार
विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
गज़ल
गज़ल
जगदीश शर्मा सहज
चाँद
चाँद
Vandna Thakur
कम कमाना कम ही खाना, कम बचाना दोस्तो!
कम कमाना कम ही खाना, कम बचाना दोस्तो!
सत्य कुमार प्रेमी
कभी जिस पर मेरी सारी पतंगें ही लटकती थी
कभी जिस पर मेरी सारी पतंगें ही लटकती थी
Johnny Ahmed 'क़ैस'
No battles
No battles
Dhriti Mishra
बिहार का जालियांवाला बाग - तारापुर
बिहार का जालियांवाला बाग - तारापुर
विक्रम कुमार
राजाधिराज महाकाल......
राजाधिराज महाकाल......
Kavita Chouhan
23/159.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/159.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
आंसूओं की नहीं
आंसूओं की नहीं
Dr fauzia Naseem shad
💐Prodigy Love-30💐
💐Prodigy Love-30💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
मुझे इश्क से नहीं,झूठ से नफरत है।
मुझे इश्क से नहीं,झूठ से नफरत है।
लक्ष्मी सिंह
"इस पृथ्वी पर"
Dr. Kishan tandon kranti
आरम्भ
आरम्भ
Neeraj Agarwal
!! होली के दिन !!
!! होली के दिन !!
Chunnu Lal Gupta
चाहे मिल जाये अब्र तक।
चाहे मिल जाये अब्र तक।
Satish Srijan
#लघुकथा
#लघुकथा
*Author प्रणय प्रभात*
दौरे-हजीर चंद पर कलमात🌹🌹🌹🌹🌹🌹
दौरे-हजीर चंद पर कलमात🌹🌹🌹🌹🌹🌹
shabina. Naaz
*धनुष (बाल कविता)*
*धनुष (बाल कविता)*
Ravi Prakash
🥀*गुरु चरणों की धूलि*🥀
🥀*गुरु चरणों की धूलि*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
कहा हों मोहन, तुम दिखते नहीं हों !
कहा हों मोहन, तुम दिखते नहीं हों !
The_dk_poetry
शीर्षक – वह दूब सी
शीर्षक – वह दूब सी
Manju sagar
ऐसे जीना जिंदगी,
ऐसे जीना जिंदगी,
sushil sarna
लड्डु शादी का खायके, अनिल कैसे खुशी बनाये।
लड्डु शादी का खायके, अनिल कैसे खुशी बनाये।
Anil chobisa
वो खूबसूरत है
वो खूबसूरत है
रोहताश वर्मा 'मुसाफिर'
कर मुसाफिर सफर तू अपने जिंदगी  का,
कर मुसाफिर सफर तू अपने जिंदगी का,
Yogendra Chaturwedi
धरा और इसमें हरियाली
धरा और इसमें हरियाली
Buddha Prakash
गांव और वसंत
गांव और वसंत
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
Loading...