Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
11 Feb 2024 · 1 min read

जीवन में सबसे मूल्यवान अगर मेरे लिए कुछ है तो वह है मेरा आत्

जीवन में सबसे मूल्यवान अगर मेरे लिए कुछ है तो वह है मेरा आत्मसम्मान। इसके लिए न किसी से समझौता किया है न आगे समझौता करेंगे।
डॉ तबस्सुम जहां

1 Like · 150 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
वो काजल से धार लगाती है अपने नैनों की कटारों को ,,
वो काजल से धार लगाती है अपने नैनों की कटारों को ,,
Vishal babu (vishu)
दर्द की मानसिकता
दर्द की मानसिकता
DR ARUN KUMAR SHASTRI
हाथों से करके पर्दा निगाहों पर
हाथों से करके पर्दा निगाहों पर
gurudeenverma198
*सदियों बाद पधारे हैं प्रभु, जन्मभूमि हर्षाई है (हिंदी गजल)*
*सदियों बाद पधारे हैं प्रभु, जन्मभूमि हर्षाई है (हिंदी गजल)*
Ravi Prakash
कभी वो कसम दिला कर खिलाया करती हैं
कभी वो कसम दिला कर खिलाया करती हैं
Jitendra Chhonkar
हमेशा आंखों के समुद्र ही बहाओगे
हमेशा आंखों के समुद्र ही बहाओगे
कवि दीपक बवेजा
🥀* अज्ञानी की कलम*🥀
🥀* अज्ञानी की कलम*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
"चाँद-तारे"
Dr. Kishan tandon kranti
चाँद से वार्तालाप
चाँद से वार्तालाप
Dr MusafiR BaithA
#शीर्षक:-तो क्या ही बात हो?
#शीर्षक:-तो क्या ही बात हो?
Pratibha Pandey
जब भी अपनी दांत दिखाते
जब भी अपनी दांत दिखाते
AJAY AMITABH SUMAN
कैसा विकास और किसका विकास !
कैसा विकास और किसका विकास !
ओनिका सेतिया 'अनु '
गुलाम
गुलाम
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
नन्हें बच्चे को जब देखा
नन्हें बच्चे को जब देखा
Sushmita Singh
मगरूर क्यों हैं
मगरूर क्यों हैं
Mamta Rani
अगर मुझे पढ़ सको तो पढना जरूर
अगर मुझे पढ़ सको तो पढना जरूर
शेखर सिंह
ईमानदारी. . . . . लघुकथा
ईमानदारी. . . . . लघुकथा
sushil sarna
चांद शेर
चांद शेर
Bodhisatva kastooriya
दुख ही दुख है -
दुख ही दुख है -
पूर्वार्थ
😢4
😢4
*प्रणय प्रभात*
सत्य साधना
सत्य साधना
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
हिन्दी दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
हिन्दी दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
Lokesh Sharma
हालातों से युद्ध हो हुआ।
हालातों से युद्ध हो हुआ।
Kuldeep mishra (KD)
मैं को तुम
मैं को तुम
Dr fauzia Naseem shad
23/11.छत्तीसगढ़ी पूर्णिका
23/11.छत्तीसगढ़ी पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
बिखरे सपने
बिखरे सपने
Kanchan Khanna
वैवाहिक चादर!
वैवाहिक चादर!
कविता झा ‘गीत’
रावण का परामर्श
रावण का परामर्श
Dr. Harvinder Singh Bakshi
अमावस्या में पता चलता है कि पूर्णिमा लोगो राह दिखाती है जबकि
अमावस्या में पता चलता है कि पूर्णिमा लोगो राह दिखाती है जबकि
Rj Anand Prajapati
रामजी कर देना उपकार
रामजी कर देना उपकार
Seema gupta,Alwar
Loading...