Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
15 Feb 2024 · 1 min read

जीवन मर्म

नीर के तीर पर खड़े हो कर देखो
नीर को तीर पर आते हुए
फिर स्वयं से कुछ सवाल करो
कौतूहल को अन्दर के तुम शान्त करो
जैसे आती लहर तीर से वापस होती है
ठीक वैसे ही जीवन की परीक्षा होती है
एक नहीं अनगिनत बार हुआ
लहरों ने तीर को छुआ
पर तीर स्थिर रहा
डटा रहा वैसे ही तुम भी
तीर बनो
थोडे धीर थोड़े गम्भीर बनो
बाधाए आएगी जाएगी
सौ सौ बार तुम्हें छलाएगी
पर तुम डटे रहना अटे रहना

91 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
View all
You may also like:
#लघु_कविता :-
#लघु_कविता :-
*Author प्रणय प्रभात*
Love ❤
Love ❤
HEBA
खता खतों की नहीं थीं , लम्हों की थी ,
खता खतों की नहीं थीं , लम्हों की थी ,
Manju sagar
2793. *पूर्णिका*
2793. *पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
कविता
कविता
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
🌹जिन्दगी के पहलू 🌹
🌹जिन्दगी के पहलू 🌹
Dr Shweta sood
मेरे पास खिलौने के लिए पैसा नहीं है मैं वक्त देता हूं अपने ब
मेरे पास खिलौने के लिए पैसा नहीं है मैं वक्त देता हूं अपने ब
Ranjeet kumar patre
अंग प्रदर्शन करने वाले जितने भी कलाकार है उनके चरित्र का अस्
अंग प्रदर्शन करने वाले जितने भी कलाकार है उनके चरित्र का अस्
Rj Anand Prajapati
शुरुआत जरूरी है
शुरुआत जरूरी है
Shyam Pandey
"क्रूरतम अपराध"
Dr. Kishan tandon kranti
भूल जा वह जो कल किया
भूल जा वह जो कल किया
gurudeenverma198
जूते और लोग..,
जूते और लोग..,
Vishal babu (vishu)
बुद्ध भगवन्
बुद्ध भगवन्
Buddha Prakash
अपनी अपनी सोच
अपनी अपनी सोच
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
उम्रभर
उम्रभर
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
Started day with the voice of nature
Started day with the voice of nature
Ankita Patel
इश्क़
इश्क़
लक्ष्मी सिंह
ये जंग जो कर्बला में बादे रसूल थी
ये जंग जो कर्बला में बादे रसूल थी
shabina. Naaz
जीवन की विषम परिस्थितियों
जीवन की विषम परिस्थितियों
Dr.Rashmi Mishra
1. चाय
1. चाय
Rajeev Dutta
*वक्त की दहलीज*
*वक्त की दहलीज*
Harminder Kaur
शहज़ादी
शहज़ादी
Satish Srijan
The stars are waiting for this adorable day.
The stars are waiting for this adorable day.
Sakshi Tripathi
आइए जनाब
आइए जनाब
Surinder blackpen
#DrArunKumarshastri
#DrArunKumarshastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
मेरी बेटी बड़ी हो गई,
मेरी बेटी बड़ी हो गई,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
शाहकार (महान कलाकृति)
शाहकार (महान कलाकृति)
Shekhar Chandra Mitra
‌‌भक्ति में शक्ति
‌‌भक्ति में शक्ति
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
दुल्हन एक रात की
दुल्हन एक रात की
Neeraj Agarwal
"पहले मुझे लगता था कि मैं बिका नही इसलिए सस्ता हूँ
दुष्यन्त 'बाबा'
Loading...