Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
22 Feb 2024 · 1 min read

जीने को बस यादें हैं।

तुममें हममें कुछ तो मुख्तालिफ बातें हैं।
फासले दरम्यां हुए जीने को बस यादें हैं।।1।।

तुम क्या गए जिन्दगी से वीरानें आ गए।
परेशांन बहुत करती अब तन्हा ये रातें हैं।।2।।

अब हम कहीं पे चैनो सुकूं पाते नही हैं।
अपना रंग छोड़ती मेरे घर की दीवारें हैं।।3।।

चारों तरफ ही सब बागबां बागबां सा हैं।
ये गुलशन कैसे महके सूखे फूल सारें हैं।।4।।

यूं मत करों मैला मासूम ज़हनो को तुम।
बस्तियां जलाने को काफ़ी यह अंगारें हैं।।5।।

आज तुम हंसलो मुझपे वक्त है तुम्हारा।
गर्दिशों में किस्मत के मेरे सब सितारें हैं।।6।।

ताज मोहम्मद
लखनऊ

35 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
ऐसे हंसते रहो(बाल दिवस पर)
ऐसे हंसते रहो(बाल दिवस पर)
gurudeenverma198
नई पीढ़ी पूछेगी, पापा ये धोती क्या होती है…
नई पीढ़ी पूछेगी, पापा ये धोती क्या होती है…
Anand Kumar
दिल की बातें....
दिल की बातें....
Kavita Chouhan
usne kuchh is tarah tarif ki meri.....ki mujhe uski tarif pa
usne kuchh is tarah tarif ki meri.....ki mujhe uski tarif pa
Rakesh Singh
चमत्कार को नमस्कार
चमत्कार को नमस्कार
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
कितना मुश्किल है केवल जीना ही ..
कितना मुश्किल है केवल जीना ही ..
Vivek Mishra
The OCD Psychologist
The OCD Psychologist
मोहित शर्मा ज़हन
वहशीपन का शिकार होती मानवता
वहशीपन का शिकार होती मानवता
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
"रंगमंच पर"
Dr. Kishan tandon kranti
💐अज्ञात के प्रति-151💐
💐अज्ञात के प्रति-151💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
विचार~
विचार~
दिनेश एल० "जैहिंद"
सितारों की तरह चमकना है, तो सितारों की तरह जलना होगा।
सितारों की तरह चमकना है, तो सितारों की तरह जलना होगा।
Yogi Yogendra Sharma : Motivational Speaker
প্রফুল্ল হৃদয় এবং হাস্যোজ্জ্বল চেহারা
প্রফুল্ল হৃদয় এবং হাস্যোজ্জ্বল চেহারা
Sakhawat Jisan
चिड़िया
चिड़िया
Kanchan Khanna
हैं राम आये अवध  में  पावन  हुआ  यह  देश  है
हैं राम आये अवध में पावन हुआ यह देश है
Anil Mishra Prahari
हालातों से युद्ध हो हुआ।
हालातों से युद्ध हो हुआ।
Kuldeep mishra (KD)
उफ़ तेरी ये अदायें सितम ढा रही है।
उफ़ तेरी ये अदायें सितम ढा रही है।
Phool gufran
Rakesh Yadav - Desert Fellow - निर्माण करना होगा
Rakesh Yadav - Desert Fellow - निर्माण करना होगा
Desert fellow Rakesh
नया से भी नया
नया से भी नया
Ramswaroop Dinkar
मरने से पहले / मुसाफ़िर बैठा
मरने से पहले / मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
*संपूर्ण रामचरितमानस का पाठ/ दैनिक रिपोर्ट*
*संपूर्ण रामचरितमानस का पाठ/ दैनिक रिपोर्ट*
Ravi Prakash
क्यों पड़ी है गांठ, आओ खोल दें।
क्यों पड़ी है गांठ, आओ खोल दें।
surenderpal vaidya
।। कसौटि ।।
।। कसौटि ।।
विनोद कृष्ण सक्सेना, पटवारी
लिप्सा
लिप्सा
Shyam Sundar Subramanian
हटा लो नजरे तुम
हटा लो नजरे तुम
शेखर सिंह
काव्य की आत्मा और रीति +रमेशराज
काव्य की आत्मा और रीति +रमेशराज
कवि रमेशराज
गाँधी हमेशा जिंदा है
गाँधी हमेशा जिंदा है
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
2725.*पूर्णिका*
2725.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
ह्रदय की स्थिति की
ह्रदय की स्थिति की
Dr fauzia Naseem shad
■ तजुर्बे की बात।
■ तजुर्बे की बात।
*Author प्रणय प्रभात*
Loading...