Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
29 May 2023 · 1 min read

जिया ना जाए तेरे बिन

तेरी यादों में बीते दिन, रात बीते तारे गिन – गिन
जिया ना जाए जिया ना जाए, जिया ना जाए तेरे बिन।

मैं तो बस रही हु, तू मेरी रास्ता
तू ही तो एक वजह है, मैं जो लिखा दस्ता
अलग हो समां,हम मिलेंगे जहां
ये कहूं मैं किसे और कही तेरे बिन।
जिया ना …………………………

मैं तेरा आशिक हु, तू मेरी आशिकी
तू मेरी धड़कन ही, तू ही मेरी जिंदगी
ना होना जुदा है कसम प्यार की
यार कैसे रहेंगे कही तेरे बिन।
जिया ना ………………………..

✍️ बसंत भगवान राय

Language: Hindi
167 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Basant Bhagawan Roy
View all
You may also like:
तुम भी जनता मैं भी जनता
तुम भी जनता मैं भी जनता
DR ARUN KUMAR SHASTRI
जख्म भी रूठ गया है अबतो
जख्म भी रूठ गया है अबतो
सिद्धार्थ गोरखपुरी
हम चाहते हैं
हम चाहते हैं
Basant Bhagawan Roy
माटी करे पुकार 🙏🙏
माटी करे पुकार 🙏🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
'महंगाई की मार'
'महंगाई की मार'
निरंजन कुमार तिलक 'अंकुर'
!! निरीह !!
!! निरीह !!
Chunnu Lal Gupta
तुमसे ही से दिन निकलता है मेरा,
तुमसे ही से दिन निकलता है मेरा,
इंजी. संजय श्रीवास्तव
हसरतों की भी एक उम्र होनी चाहिए।
हसरतों की भी एक उम्र होनी चाहिए।
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
एक बाप ने शादी में अपनी बेटी दे दी
एक बाप ने शादी में अपनी बेटी दे दी
शेखर सिंह
है कश्मकश - इधर भी - उधर भी
है कश्मकश - इधर भी - उधर भी
Atul "Krishn"
पते की बात - दीपक नीलपदम्
पते की बात - दीपक नीलपदम्
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
पहले वो दीवार पर नक़्शा लगाए - संदीप ठाकुर
पहले वो दीवार पर नक़्शा लगाए - संदीप ठाकुर
Sandeep Thakur
कभी
कभी
हिमांशु Kulshrestha
सच समझने में चूका तंत्र सारा
सच समझने में चूका तंत्र सारा
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
रूठकर के खुदसे
रूठकर के खुदसे
Suman (Aditi Angel 🧚🏻)
वो मुझे प्यार नही करता
वो मुझे प्यार नही करता
Swami Ganganiya
कहां ज़िंदगी का
कहां ज़िंदगी का
Dr fauzia Naseem shad
कहानी-
कहानी- "हाजरा का बुर्क़ा ढीला है"
Dr Tabassum Jahan
अपनी मंजिल की तलाश में ,
अपनी मंजिल की तलाश में ,
ओनिका सेतिया 'अनु '
हिन्दी दोहा-पत्नी
हिन्दी दोहा-पत्नी
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
*अंतर्मन में राम जी, रहिए सदा विराज (कुंडलिया)*
*अंतर्मन में राम जी, रहिए सदा विराज (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
धर्म बनाम धर्मान्ध
धर्म बनाम धर्मान्ध
Ramswaroop Dinkar
Yado par kbhi kaha pahra hota h.
Yado par kbhi kaha pahra hota h.
Sakshi Tripathi
श्रावणी हाइकु
श्रावणी हाइकु
Dr. Pradeep Kumar Sharma
कहीं भूल मुझसे न हो जो गई है।
कहीं भूल मुझसे न हो जो गई है।
surenderpal vaidya
2500.पूर्णिका
2500.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
''आशा' के मुक्तक
''आशा' के मुक्तक"
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
मेरा दुश्मन
मेरा दुश्मन
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
जड़ें
जड़ें
Dr. Kishan tandon kranti
*राम स्वयं राष्ट्र हैं*
*राम स्वयं राष्ट्र हैं*
Sanjay ' शून्य'
Loading...