Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
24 Feb 2023 · 1 min read

💐प्रेम कौतुक-239💐

ज़हमत हुई है क्या?कहीं चोट लगी है दिल में,
रूबरू है फिर भी शर्माकर पयाम भेज रहे हैं।

©®अभिषेक: पाराशरः “आनन्द”

Language: Hindi
50 Views
Join our official announcements group on Whatsapp & get all the major updates from Sahityapedia directly on Whatsapp.
You may also like:
गाँधी जी की लाठी
गाँधी जी की लाठी
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
गुरु तेग बहादुर जी जन्म दिवस
गुरु तेग बहादुर जी जन्म दिवस
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
सब विश्वास खोखले निकले सभी आस्थाएं झूठीं
सब विश्वास खोखले निकले सभी आस्थाएं झूठीं
Ravi Ghayal
देर तक मैंने आईना देखा
देर तक मैंने आईना देखा
Dr fauzia Naseem shad
फूल और खंजर
फूल और खंजर
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
सफल इंसान की खूबियां
सफल इंसान की खूबियां
Pratibha Kumari
गांव
गांव
पंकज पाण्डेय सावर्ण्य
अपनी यही चाहत है_
अपनी यही चाहत है_
Rajesh vyas
न मिलती कुछ तवज्जो है, न होता मान सीधे का।
न मिलती कुछ तवज्जो है, न होता मान सीधे का।
डॉ.सीमा अग्रवाल
"वो यादगारनामे"
Rajul Kushwaha
शिव स्तुति
शिव स्तुति
Shivkumar Bilagrami
समय बहुत है,
समय बहुत है,
Parvat Singh Rajput
*मेरी इच्छा*
*मेरी इच्छा*
Dushyant Kumar
चाय सिर्फ चीनी और चायपत्ती का मेल नहीं
चाय सिर्फ चीनी और चायपत्ती का मेल नहीं
Charu Mitra
बड़ा मायूस बेचारा लगा वो।
बड़ा मायूस बेचारा लगा वो।
सत्य कुमार प्रेमी
फकीरी/दीवानों की हस्ती
फकीरी/दीवानों की हस्ती
लक्ष्मी सिंह
जन्नत चाहिए तो जान लगा दे
जन्नत चाहिए तो जान लगा दे
D.k Math { ਧਨੇਸ਼ }
अप्प दीपो भव
अप्प दीपो भव
Shekhar Chandra Mitra
गौतम बुद्ध रूप में इंसान ।
गौतम बुद्ध रूप में इंसान ।
Buddha Prakash
होली
होली
सूरज राम आदित्य (Suraj Ram Aditya)
धरा कठोर भले हो कितनी,
धरा कठोर भले हो कितनी,
Satish Srijan
"जाग दुखियारे"
Dr. Kishan tandon kranti
💐Prodigy Love-46💐
💐Prodigy Love-46💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
*कुछ नहीं मेरा जगत में, और कुछ लाया नहीं【मुक्तक 】*
*कुछ नहीं मेरा जगत में, और कुछ लाया नहीं【मुक्तक 】*
Ravi Prakash
भगवावस्त्र
भगवावस्त्र
डॉ प्रवीण ठाकुर
चाय पे चर्चा
चाय पे चर्चा
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
होली...
होली...
Aadarsh Dubey
दोस्ती
दोस्ती
राजेश बन्छोर
इशारा दोस्ती का
इशारा दोस्ती का
Sandeep Pande
रणक्षेत्र बना अब, युवा उबाल
रणक्षेत्र बना अब, युवा उबाल
प्रेमदास वसु सुरेखा
Loading...