Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
8 Jul 2016 · 1 min read

चाहता हूँ साथ में माँ भी रहे आराम से

चाहता हूँ साथ में माँ भी रहे आराम से ।
पैर में मालिश करूँ जब भी आऊ काम से ।।

गाँव की गलियाँ बताती काम करती रातदिन ।
स्वप्न में भी नाम रटती आशीष राजू लाला विपिन ।।

गाय की सेवा वो करती पापा जी के साथ में ।
पूर्णमासी ब्रत कथा किताब रखती हाथ में ।।

चारों बेटों का भला हो कहती है भगवान से ।
चाहता हूँ साथ में माँ भी रहे आराम से ।।

याद आते दिन पुराने मैं भी रोता हूँ यहाँ ।
माँ का दिल है जान जाती वो भी रोती है वहा ।।

वायु सेना में है राजू हर समय सूली चढ़ा ।
झेलकर सारी मुसीबत पैरो पर जुगनू खड़ा ।।

छोटे भाई से है कहती तुम ना लड़ना राम से ।
चाहता हूँ साथ में माँ भी रहे आराम से ।।

आज तक पैसे नहीं ली रहती पुराने हाल में ।
देख आता हूँ गरीबी छ महीना साल में ।।

घर बनाके साथ में तेरे पास ही रहना मुझे ।
माँ सुनाना लोरियाँ दहिजार भी कहना मुझे ।।

पुण्य ज्यादा है तेरे चरणों में चारोधाम से ।
चाहता हूँ साथ में माँ भी रहे आराम से ।।

Language: Hindi
398 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
रिशते ना खास होते हैं
रिशते ना खास होते हैं
Dhriti Mishra
सत्यता और शुचिता पूर्वक अपने कर्तव्यों तथा दायित्वों का निर्
सत्यता और शुचिता पूर्वक अपने कर्तव्यों तथा दायित्वों का निर्
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
23/158.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/158.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
सोचना नहीं कि तुमको भूल गया मैं
सोचना नहीं कि तुमको भूल गया मैं
gurudeenverma198
इश्क समंदर
इश्क समंदर
Neelam Sharma
फागुन कि फुहार रफ्ता रफ्ता
फागुन कि फुहार रफ्ता रफ्ता
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
सैनिक की कविता
सैनिक की कविता
Jeewan Singh 'जीवनसवारो'
*भारतीय क्रिकेटरों का जोश*
*भारतीय क्रिकेटरों का जोश*
Harminder Kaur
प्लास्टिक बंदी
प्लास्टिक बंदी
Dr. Pradeep Kumar Sharma
अनहोनी करते प्रभो, रखो मनुज विश्वास (कुंडलिया)*
अनहोनी करते प्रभो, रखो मनुज विश्वास (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
* मिट जाएंगे फासले *
* मिट जाएंगे फासले *
surenderpal vaidya
प्रेम🕊️
प्रेम🕊️
Vivek Mishra
क्यूँ ख़्वाबो में मिलने की तमन्ना रखते हो
क्यूँ ख़्वाबो में मिलने की तमन्ना रखते हो
'अशांत' शेखर
'ਸਾਜਿਸ਼'
'ਸਾਜਿਸ਼'
विनोद सिल्ला
सच का सूरज
सच का सूरज
Shekhar Chandra Mitra
लड़की की जिंदगी/ कन्या भूर्ण हत्या
लड़की की जिंदगी/ कन्या भूर्ण हत्या
Raazzz Kumar (Reyansh)
ऐसे ना मुझे  छोड़ना
ऐसे ना मुझे छोड़ना
Umender kumar
खुदगर्ज दुनियाँ मे
खुदगर्ज दुनियाँ मे
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
हिंदी मेरी राष्ट्र की भाषा जग में सबसे न्यारी है
हिंदी मेरी राष्ट्र की भाषा जग में सबसे न्यारी है
SHAMA PARVEEN
यकीन
यकीन
Sidhartha Mishra
🥀 *गुरु चरणों की धूल*🥀
🥀 *गुरु चरणों की धूल*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
दीपावली त्यौहार
दीपावली त्यौहार
Suman (Aditi Angel 🧚🏻)
अगहन कृष्ण पक्ष में पड़ने वाली एकादशी को उत्पन्ना एकादशी के
अगहन कृष्ण पक्ष में पड़ने वाली एकादशी को उत्पन्ना एकादशी के
Shashi kala vyas
*तुम न आये*
*तुम न आये*
Kavita Chouhan
चंद अश'आर ( मुस्कुराता हिज्र )
चंद अश'आर ( मुस्कुराता हिज्र )
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
होली मुबारक
होली मुबारक
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
ज्ञान का अर्थ
ज्ञान का अर्थ
ओंकार मिश्र
ईमानदारी की ज़मीन चांद है!
ईमानदारी की ज़मीन चांद है!
Dr MusafiR BaithA
ह्रदय की स्थिति की
ह्रदय की स्थिति की
Dr fauzia Naseem shad
समय के हाथ पर ...
समय के हाथ पर ...
sushil sarna
Loading...