Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
3 Jul 2023 · 1 min read

गुरु महिमा

वेदों की रचना करी जिसने,वही वेद व्यास कहलाते है।
व्यासजी के जन्म के उपलक्ष में,सब मिलकर गुरु पूर्णिमा मनाते हैं।।
हर व्यक्ति के जीवन निर्माण में,किसी गुरु की बहुत अहम भूमिका है।
गुरुवंदन और गुरुसम्मान का यही तो,जगत में सबसे सरल तरीका है।।
गुरु ने अपना सर्वस्व न्यौछावर कर, शिष्य का जीवन गुरु मन्त्रों से संवारा है।
शिष्यों द्वारा आभार प्रकट करने का,गुरु को यह अवसर कितना प्यारा है।।
कहे विजय बिजनौरी गुरु स्थान जगत में ईश्वर से ऊपर माना जाता है।
देख गुरु को अपने सामने हर शिष्य का सर सम्मान से खुद ब खुद झुक जाता है।।

विजय कुमार अग्रवाल
विजय बिजनौरी।

Language: Hindi
3 Likes · 226 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from विजय कुमार अग्रवाल
View all
You may also like:
बस यूँ ही
बस यूँ ही
Neelam Sharma
कहानी इश्क़ की
कहानी इश्क़ की
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
अपना भी एक घर होता,
अपना भी एक घर होता,
Shweta Soni
दोदोस्ती,प्यार और धोखा का संबंध
दोदोस्ती,प्यार और धोखा का संबंध
रुपेश कुमार
बींसवीं गाँठ
बींसवीं गाँठ
Shashi Dhar Kumar
साहस है तो !
साहस है तो !
Ramswaroop Dinkar
23/108.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/108.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
निशानी
निशानी
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
हिन्दुत्व_एक सिंहावलोकन
हिन्दुत्व_एक सिंहावलोकन
मनोज कर्ण
मैं खुद से कर सकूं इंसाफ
मैं खुद से कर सकूं इंसाफ
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
इश्क़ का असर
इश्क़ का असर
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
मर्यादाएँ टूटतीं, भाषा भी अश्लील।
मर्यादाएँ टूटतीं, भाषा भी अश्लील।
Arvind trivedi
हमारी योग्यता पर सवाल क्यो १
हमारी योग्यता पर सवाल क्यो १
भरत कुमार सोलंकी
I am a little boy
I am a little boy
Rajan Sharma
* हासिल होती जीत *
* हासिल होती जीत *
surenderpal vaidya
बीत जाता हैं
बीत जाता हैं
TARAN VERMA
*कुछ तो बात है* ( 23 of 25 )
*कुछ तो बात है* ( 23 of 25 )
Kshma Urmila
कलेजा फटता भी है
कलेजा फटता भी है
Paras Nath Jha
Childhood is rich and adulthood is poor.
Childhood is rich and adulthood is poor.
सिद्धार्थ गोरखपुरी
हालातों से युद्ध हो हुआ।
हालातों से युद्ध हो हुआ।
Kuldeep mishra (KD)
हिंदी दिवस - विषय - दवा
हिंदी दिवस - विषय - दवा
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
वह देश हिंदुस्तान है
वह देश हिंदुस्तान है
gurudeenverma198
#मुक्तक-
#मुक्तक-
*Author प्रणय प्रभात*
अंदाज़े शायरी
अंदाज़े शायरी
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
सोने के पिंजरे से कहीं लाख़ बेहतर,
सोने के पिंजरे से कहीं लाख़ बेहतर,
Monika Verma
सपने
सपने
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
"धीरे-धीरे"
Dr. Kishan tandon kranti
तुम्हें पाना-खोना एकसार सा है--
तुम्हें पाना-खोना एकसार सा है--
Shreedhar
तुझसे है मुझे प्यार ये बतला रहा हूॅं मैं।
तुझसे है मुझे प्यार ये बतला रहा हूॅं मैं।
सत्य कुमार प्रेमी
*जाता दिखता इंडिया, आता भारतवर्ष (कुंडलिया)*
*जाता दिखता इंडिया, आता भारतवर्ष (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
Loading...