Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
9 Aug 2016 · 1 min read

गीत :– ये जुल्फें ये आँखें ये होठों की लाली !!

गीत :– ये जुल्फें ये आँखें ये होठों की लाली !!

ये जुल्फें ये आँखें ये होठों की लाली !
खुदा नें है बख्शा या तूने चुरा ली!!

दहकता ये जौवन ..ये झूमे बदन है !
ना दिल में तपन है ना माथे शिकन है !!
सागर मे खिलता गुलाबी कमल ज्यों ;
चहरे पे रौनक वो दीवानापन है !!

ये नाक की नथनी ये कानों की बाली !
खुदा नें है बख्शा या तू नें चुरा ली !!

सांसों से तेरी ये महका चमन है !
नजाकत निगाहों में एक आवरण है !
सितारे ये पूछें जमीं में उतर कर ;
परी है या कोई कली गुलबदन है !!

ये आहें ये सांसें ये बातें निराली !
खुदा नें है बख्शा या तूने चुरा ली !!

कवि :– अनुज तिवारी “इन्दवार”

Language: Hindi
Tag: गीत
2 Likes · 5 Comments · 2692 Views
You may also like:
मीठी-मीठी बातें
AMRESH KUMAR VERMA
जिन्दगी मे कोहरा
Anamika Singh
पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी, एक सच्चे इंसान थे
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
समारंभ
Utkarsh Dubey “Kokil”
बेरोजगार आशिक
Shekhar Chandra Mitra
दुनिया
Rashmi Sanjay
अनवरत सी चलती जिंदगी और भागते हमारे कदम।
Manisha Manjari
बारिश का मौसम
विजय कुमार अग्रवाल
ग़ज़ल & दिल की किताब में -राना लिधौरी
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
अंधेरा मिटाना होगा
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
पढ़ते कहां किताब का
RAMESH SHARMA
गज़ल
साहित्य लेखन- एहसास और जज़्बात
हठीले हो बड़े निष्ठुर
लक्ष्मी सिंह
"मेरे पापा "
Usha Sharma
बदरिया
Dhirendra Panchal
निरक्षता
मनमोहन लाल गुप्ता 'अंजुम'
✍️मिसाले✍️
'अशांत' शेखर
बरसात
मनोज कर्ण
*शिक्षक (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
फ़िदा
Buddha Prakash
तुम साथ अगर देते नाकाम नहीं होता
Dr Archana Gupta
बेड़ियाँ
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
बंदिशे तमाम मेरे हक़ में ...........
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
ढूढ़ा जाऊंगा
सिद्धार्थ गोरखपुरी
बंधन
दशरथ रांकावत 'शक्ति'
कभी हम भी।
Taj Mohammad
मादक अखियों में
Dr. Sunita Singh
क्यों किया एतबार
Dr fauzia Naseem shad
व्याकुल हुआ है तन मन, कोई बुला रहा है।
सत्य कुमार प्रेमी
“हिमांचल दर्शन “
DrLakshman Jha Parimal
Loading...