Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
1 Mar 2017 · 1 min read

आदमी का मन

आदमी का …मन
^^^^^^^^
दिल बेचारा किस किस की सुने?
कभी इधर दौड़ लगाए
कभी उधर
कभी आपके पास
कभी उसके पास
कभी खुद के पास
कभी अपने जन्मदाता के साथ रहता
कभी दुनिया की सैर कर आए।
गौहाटी का न्यूमार्केट
जल कल खाक हूआ
बिना आकार वाले
की करामात तो देखो
मेरे दिल आकार वाला
आज तामिलनाडू पहूचाॅ
पानी ने हाहाकार मचाया
एक सौ पाॅच आदमी मर गये
दिल कराह उठा।
क्या हुआ होगा उन सब के साथ
मेरा दिल मुझ से कहता
थोड़ी सी सर्दी से परैशान हो ?
वो तो बेचारे जान से ही चलै गये
ममता शांत रहा कर ।।
**********

Language: Hindi
422 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
🙅एक शोध🙅
🙅एक शोध🙅
*Author प्रणय प्रभात*
*मोदी (कुंडलिया)*
*मोदी (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
ये जंग जो कर्बला में बादे रसूल थी
ये जंग जो कर्बला में बादे रसूल थी
shabina. Naaz
करवा चौथ
करवा चौथ
Er. Sanjay Shrivastava
जीत रही है जंग शांति की हार हो रही।
जीत रही है जंग शांति की हार हो रही।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
"मुझे हक सही से जताना नहीं आता
पूर्वार्थ
खुद के होते हुए भी
खुद के होते हुए भी
Dr fauzia Naseem shad
मूहूर्त
मूहूर्त
Neeraj Agarwal
💐प्रेम कौतुक-518💐
💐प्रेम कौतुक-518💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
7. तेरी याद
7. तेरी याद
Rajeev Dutta
"प्यार तुमसे करते हैं "
Pushpraj Anant
अपने दिल की कोई जरा,
अपने दिल की कोई जरा,
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
जल रहे अज्ञान बनकर, कहेें मैं शुभ सीख हूँ
जल रहे अज्ञान बनकर, कहेें मैं शुभ सीख हूँ
Pt. Brajesh Kumar Nayak
अधूरे ख्वाब
अधूरे ख्वाब
रोहताश वर्मा 'मुसाफिर'
शेष
शेष
Dr.Priya Soni Khare
*प्यार का रिश्ता*
*प्यार का रिश्ता*
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
मंदिर जाना चाहिए
मंदिर जाना चाहिए
जगदीश लववंशी
राखी का कर्ज
राखी का कर्ज
Mukesh Kumar Sonkar
2430.पूर्णिका
2430.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
विष्णु प्रभाकर जी रहे,
विष्णु प्रभाकर जी रहे,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
चालवाजी से तो अच्छा है
चालवाजी से तो अच्छा है
Satish Srijan
" पहला खत "
Aarti sirsat
रिश्तें मे मानव जीवन
रिश्तें मे मानव जीवन
Anil chobisa
ऊपर बैठा नील गगन में भाग्य सभी का लिखता है
ऊपर बैठा नील गगन में भाग्य सभी का लिखता है
Anil Mishra Prahari
क्या मणिपुर बंगाल क्या, क्या ही राजस्थान ?
क्या मणिपुर बंगाल क्या, क्या ही राजस्थान ?
Arvind trivedi
अर्धांगिनी
अर्धांगिनी
VINOD CHAUHAN
मार नहीं, प्यार करो
मार नहीं, प्यार करो
Shekhar Chandra Mitra
सभी भगवान को प्यारे हो जाते हैं,
सभी भगवान को प्यारे हो जाते हैं,
Manoj Mahato
पहचान
पहचान
Dr. Pradeep Kumar Sharma
जमाना तो डरता है, डराता है।
जमाना तो डरता है, डराता है।
Priya princess panwar
Loading...