Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
10 Jun 2023 · 1 min read

आखिरी दिन होगा वो

आखिरी दिन होगा वो
जब दिल धडकना बंद होगा हमारा
पर तुम्हारा प्यार जिंदा रहेगा दिल में
जिसे तुम याद करोगे अपने दिल धडकने तक ……….shabinaZ

209 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from shabina. Naaz
View all
You may also like:
■ आज का प्रहार
■ आज का प्रहार
*Author प्रणय प्रभात*
आज की जरूरत~
आज की जरूरत~
दिनेश एल० "जैहिंद"
शादाब रखेंगे
शादाब रखेंगे
Neelam Sharma
ग़ज़ल
ग़ज़ल
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
सच ही सच
सच ही सच
Neeraj Agarwal
बम से दुश्मन मार गिराए( बाल कविता )
बम से दुश्मन मार गिराए( बाल कविता )
Ravi Prakash
तुझसे कुछ नहीं चाहिये ए जिन्दगीं
तुझसे कुछ नहीं चाहिये ए जिन्दगीं
Jay Dewangan
प्रकृति
प्रकृति
लक्ष्मी सिंह
दिल में आग , जिद और हौसला बुलंद,
दिल में आग , जिद और हौसला बुलंद,
कवि दीपक बवेजा
मूर्ख बनाने की ओर ।
मूर्ख बनाने की ओर ।
Buddha Prakash
2907.*पूर्णिका*
2907.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
जी रहे हैं सब इस शहर में बेज़ार से
जी रहे हैं सब इस शहर में बेज़ार से
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
💐प्रेम कौतुक-542💐
💐प्रेम कौतुक-542💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
ना जाने क्यों तुम,
ना जाने क्यों तुम,
Dr. Man Mohan Krishna
न्योता ठुकराने से पहले यदि थोड़ा ध्यान दिया होता।
न्योता ठुकराने से पहले यदि थोड़ा ध्यान दिया होता।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
दोहा त्रयी. . . .
दोहा त्रयी. . . .
sushil sarna
अधिक हर्ष और अधिक उन्नति के बाद ही अधिक दुख और पतन की बारी आ
अधिक हर्ष और अधिक उन्नति के बाद ही अधिक दुख और पतन की बारी आ
पूर्वार्थ
Tu Mainu pyaar de
Tu Mainu pyaar de
Swami Ganganiya
क्यों नहीं बदल सका मैं, यह शौक अपना
क्यों नहीं बदल सका मैं, यह शौक अपना
gurudeenverma198
मन अपने बसाओ तो
मन अपने बसाओ तो
surenderpal vaidya
"Radiance of Purity"
Manisha Manjari
"किसे कहूँ मालिक?"
Dr. Kishan tandon kranti
मन मन्मथ
मन मन्मथ
अशोक शर्मा 'कटेठिया'
सफर
सफर
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
'स्वागत प्रिये..!'
'स्वागत प्रिये..!'
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
🌺आलस्य🌺
🌺आलस्य🌺
सुरेश अजगल्ले 'इन्द्र '
हमने ख़ामोशियों को
हमने ख़ामोशियों को
Dr fauzia Naseem shad
मेरी बात अलग
मेरी बात अलग
Surinder blackpen
R J Meditation Centre
R J Meditation Centre
Ravikesh Jha
खुद ही खुद से इश्क कर, खुद ही खुद को जान।
खुद ही खुद से इश्क कर, खुद ही खुद को जान।
विमला महरिया मौज
Loading...