Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
17 Feb 2023 · 1 min read

💐Prodigy Love-7💐

Your destinations shall not be fulfilled.So long as you would not solve the conundrum of this love.Your all work will be become futile.Let see from your heart.Your void fate has begun.

©® Abhishek Parashar ‘Aanand’

Language: English
91 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
लीकछोड़ ग़ज़ल / मुसाफ़िर बैठा
लीकछोड़ ग़ज़ल / मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
गुज़रते कैसे हैं ये माह ओ साल मत पूछो
गुज़रते कैसे हैं ये माह ओ साल मत पूछो
Anis Shah
💐💐मेरे हिस्से में.........💐💐
💐💐मेरे हिस्से में.........💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
"परिवर्तन के कारक"
Dr. Kishan tandon kranti
आधुनिकता
आधुनिकता
पीयूष धामी
कलम की ताकत
कलम की ताकत
Seema gupta,Alwar
हिंदी मेरी माँ
हिंदी मेरी माँ
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
*जन्म-मरण : नौ दोहे*
*जन्म-मरण : नौ दोहे*
Ravi Prakash
मैं  नहीं   हो  सका,   आपका  आदतन
मैं नहीं हो सका, आपका आदतन
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
जब भी भूलोगे
जब भी भूलोगे
Dr fauzia Naseem shad
ऑफिसियल रिलेशन
ऑफिसियल रिलेशन
Dr. Pradeep Kumar Sharma
जुदाई की शाम
जुदाई की शाम
Shekhar Chandra Mitra
स्मृति शेष अटल
स्मृति शेष अटल
कार्तिक नितिन शर्मा
एकजुट हो प्रयास करें विशेष
एकजुट हो प्रयास करें विशेष
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
रिश्ता रस्म
रिश्ता रस्म
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
उसकी मासूमियत
उसकी मासूमियत
VINOD KUMAR CHAUHAN
■ सामयिक सवाल...
■ सामयिक सवाल...
*Author प्रणय प्रभात*
याद आती है
याद आती है
Er. Sanjay Shrivastava
सामाजिक मुद्दों पर आपकी पीड़ा में वृद्धि हुई है, सोशल मीडिया
सामाजिक मुद्दों पर आपकी पीड़ा में वृद्धि हुई है, सोशल मीडिया
Sanjay ' शून्य'
बिन फ़न के, फ़नकार भी मिले और वे मौके पर डँसते मिले
बिन फ़न के, फ़नकार भी मिले और वे मौके पर डँसते मिले
Anand Kumar
वीरगति
वीरगति
पंकज पाण्डेय सावर्ण्य
दिल का करार।
दिल का करार।
Taj Mohammad
कभी लगे के काबिल हुँ मैं किसी मुकाम के लिये
कभी लगे के काबिल हुँ मैं किसी मुकाम के लिये
Sonu sugandh
हाल ऐसा की खुद पे तरस आता है
हाल ऐसा की खुद पे तरस आता है
Kumar lalit
ऐसे न देख पगली प्यार हो जायेगा ..
ऐसे न देख पगली प्यार हो जायेगा ..
Yash mehra
"मेरे हमसफर"
Ekta chitrangini
परख किसको है यहां
परख किसको है यहां
Seema 'Tu hai na'
🚩आगे बढ़,मतदान करें।
🚩आगे बढ़,मतदान करें।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
Many more candles to blow in life. Happy birthday day and ma
Many more candles to blow in life. Happy birthday day and ma
DrLakshman Jha Parimal
ਸਾਥੋਂ ਇਬਾਦਤ ਕਰ ਨਹੀਂ ਹੁੰਦੀ
ਸਾਥੋਂ ਇਬਾਦਤ ਕਰ ਨਹੀਂ ਹੁੰਦੀ
Surinder blackpen
Loading...