Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
30 Mar 2023 · 1 min read

Tera wajud mujhme jinda hai,

Tera wajud mujhme jinda hai,
Khab tere hi bunta dil chuninda hai,
Pattharo ki ashko se duniya ko niharne wale
Tujhe pane ki khahish ajj bhi mujhme jinda h

1 Like · 150 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
कोई हिन्दू हो या मूसलमां,
कोई हिन्दू हो या मूसलमां,
Satish Srijan
नहीं कोई लगना दिल मुहब्बत की पुजारिन से,
नहीं कोई लगना दिल मुहब्बत की पुजारिन से,
शायर देव मेहरानियां
शिक्षार्थी को एक संदेश🕊️🙏
शिक्षार्थी को एक संदेश🕊️🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
मैं तूफान हूँ जिधर से गुजर जाऊँगा
मैं तूफान हूँ जिधर से गुजर जाऊँगा
VINOD KUMAR CHAUHAN
कभी किसी की मदद कर के देखना
कभी किसी की मदद कर के देखना
shabina. Naaz
झंझा झकोरती पेड़ों को, पर्वत निष्कम्प बने रहते।
झंझा झकोरती पेड़ों को, पर्वत निष्कम्प बने रहते।
महेश चन्द्र त्रिपाठी
अब कैसे कहें तुमसे कहने को हमारे हैं।
अब कैसे कहें तुमसे कहने को हमारे हैं।
सत्य कुमार प्रेमी
■ सनातन सत्य...
■ सनातन सत्य...
*Author प्रणय प्रभात*
जातीय उत्पीड़न
जातीय उत्पीड़न
Shekhar Chandra Mitra
जय जगदम्बे जय माँ काली
जय जगदम्बे जय माँ काली
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
हाय हाय रे कमीशन
हाय हाय रे कमीशन
gurudeenverma198
हमारा हौसला इश्क़ था - ग़ज़ल
हमारा हौसला इश्क़ था - ग़ज़ल
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
कितने कोमे जिंदगी ! ले अब पूर्ण विराम।
कितने कोमे जिंदगी ! ले अब पूर्ण विराम।
डॉ.सीमा अग्रवाल
हैं पिता, जिनकी धरा पर, पुत्र वह, धनवान जग में।।
हैं पिता, जिनकी धरा पर, पुत्र वह, धनवान जग में।।
संजीव शुक्ल 'सचिन'
आशा निराशा
आशा निराशा
सूर्यकांत द्विवेदी
अरमां (घमण्ड)
अरमां (घमण्ड)
umesh mehra
इक नयी दुनिया दारी तय कर दे
इक नयी दुनिया दारी तय कर दे
सिद्धार्थ गोरखपुरी
*संपूर्ण रामचरितमानस का पाठ: दैनिक रिपोर्ट*
*संपूर्ण रामचरितमानस का पाठ: दैनिक रिपोर्ट*
Ravi Prakash
Few incomplete wishes💔
Few incomplete wishes💔
Vandana maurya
जिंदगी
जिंदगी
Neeraj Agarwal
पिता
पिता
Ray's Gupta
💐प्रेम कौतुक-482💐
💐प्रेम कौतुक-482💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
बकरी
बकरी
ganjal juganoo
हम आज भी
हम आज भी
Dr fauzia Naseem shad
हादसे
हादसे
Shyam Sundar Subramanian
लागेला धान आई ना घरे
लागेला धान आई ना घरे
आकाश महेशपुरी
दिल पे क्या क्या गुज़री ghazal by Vinit Singh Shayar
दिल पे क्या क्या गुज़री ghazal by Vinit Singh Shayar
Vinit kumar
दोहा
दोहा
Dushyant Baba
मुझे धोखेबाज न बनाना।
मुझे धोखेबाज न बनाना।
Anamika Singh
जीव कहे अविनाशी
जीव कहे अविनाशी
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
Loading...