Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
11 Jan 2024 · 1 min read

2926.*पूर्णिका*

2926.*पूर्णिका*
🌷 दरियादिली दिखाने वाले🌷
2212 122 22
दरियादिली दिखाने वाले ।
दुनिया नयी बनाने वाले ।।
हो साफ दिल यहाँ जिसके भी ।
सुंदर स्वर्ग बनाने वाले ।।
पतवार हाथ में लेकर चलते।
भव पार ये लगाने वाले ।।
बिगड़े बने जहाँ पर हरदम।
रहते चमन सजाने वाले ।।
बेदर्द नहीं रहनुमा खेदू।
मिलते कदम बढ़ाने वाले ।।
………✍ डॉ .खेदू भारती”सत्येश”
11-01-2024गुरुवार

94 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
आप और हम
आप और हम
Neeraj Agarwal
बचपन कितना सुंदर था।
बचपन कितना सुंदर था।
Surya Barman
धानी चूनर में लिपटी है धरती जुलाई में
धानी चूनर में लिपटी है धरती जुलाई में
Anil Mishra Prahari
क्षमा एक तुला है
क्षमा एक तुला है
Satish Srijan
#दिवस_विशेष-
#दिवस_विशेष-
*Author प्रणय प्रभात*
आदिपुरुष आ बिरोध
आदिपुरुष आ बिरोध
Acharya Rama Nand Mandal
चंद्रयान-२ और ३ मिशन
चंद्रयान-२ और ३ मिशन
Jeewan Singh 'जीवनसवारो'
Propose Day
Propose Day
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
डॉ अरुण कुमार शास्त्री - एक अबोध बालक - अरुण अतृप्त
डॉ अरुण कुमार शास्त्री - एक अबोध बालक - अरुण अतृप्त
DR ARUN KUMAR SHASTRI
// होली में ......
// होली में ......
Chinta netam " मन "
विश्वकप-2023
विश्वकप-2023
World Cup-2023 Top story (विश्वकप-2023, भारत)
काव्य की आत्मा और रीति +रमेशराज
काव्य की आत्मा और रीति +रमेशराज
कवि रमेशराज
फ़ितरत को जब से
फ़ितरत को जब से
Dr fauzia Naseem shad
2795. *पूर्णिका*
2795. *पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
शुरुवात जरूरी है...!!
शुरुवात जरूरी है...!!
Shyam Pandey
मासूमियत
मासूमियत
Surinder blackpen
इश्क बाल औ कंघी
इश्क बाल औ कंघी
Sandeep Pande
फितरत,,,
फितरत,,,
Bindravn rai Saral
आइये, तिरंगा फहरायें....!!
आइये, तिरंगा फहरायें....!!
Kanchan Khanna
ग़ज़ल - राना लिधौरी
ग़ज़ल - राना लिधौरी
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
Kya kahun ki kahne ko ab kuchh na raha,
Kya kahun ki kahne ko ab kuchh na raha,
Irfan khan
// दोहा पहेली //
// दोहा पहेली //
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
विचार मंच भाग -8
विचार मंच भाग -8
डॉ० रोहित कौशिक
सूरज की किरणों
सूरज की किरणों
Sidhartha Mishra
शोख- चंचल-सी हवा
शोख- चंचल-सी हवा
लक्ष्मी सिंह
गुलाब
गुलाब
Satyaveer vaishnav
वफा से वफादारो को पहचानो
वफा से वफादारो को पहचानो
goutam shaw
*चलो देखने को चलते हैं, नेताओं की होली (हास्य गीत)*
*चलो देखने को चलते हैं, नेताओं की होली (हास्य गीत)*
Ravi Prakash
"क्रोध"
Dr. Kishan tandon kranti
ভালো উপদেশ
ভালো উপদেশ
Arghyadeep Chakraborty
Loading...