Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
31 Dec 2022 · 1 min read

1 jan 2023

दिल से नफरत मिटाना नए साल में।
दिल से दिल को लगाना नए साल में।

साल भर भी ना उतरे खुमारी तेरी।
जाम ऐसा पिलाना नए साल में।

प्यार की खुशबुओं से मोअत्तर हो जो।
गुल वफा के खिलाना नए साल में।

जिससे गमगीन दिल भी बहल जाए वह।
मीठे नगमे सुनाना नए साल में।

साल गुजरा है कुदरत की आफात में।
हर किसी को हंसाना नए साल में।

जिस शजर से भी फल और साया मिले।
बाग ऐसे लगाना नए साल में।

2 Likes · 209 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
*लेटलतीफ: दस दोहे*
*लेटलतीफ: दस दोहे*
Ravi Prakash
ज़िन्दगी और प्रेम की,
ज़िन्दगी और प्रेम की,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
सब्र करते करते
सब्र करते करते
Surinder blackpen
"जीवन का निचोड़"
Dr. Kishan tandon kranti
एक होस्टल कैंटीन में रोज़-रोज़
एक होस्टल कैंटीन में रोज़-रोज़
Rituraj shivem verma
कोई चाहे तो पता पाए, मेरे दिल का भी
कोई चाहे तो पता पाए, मेरे दिल का भी
Shweta Soni
लोकतंत्र
लोकतंत्र
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
ଧରା ଜଳେ ନିଦାଘରେ
ଧରା ଜଳେ ନିଦାଘରେ
Bidyadhar Mantry
बातें की बहुत की तुझसे,
बातें की बहुत की तुझसे,
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
Quote..
Quote..
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
*आस्था*
*आस्था*
Dushyant Kumar
मुसीबतों को भी खुद पर नाज था,
मुसीबतों को भी खुद पर नाज था,
manjula chauhan
सुप्रभात
सुप्रभात
डॉक्टर रागिनी
खुद को खोने लगा जब कोई मुझ सा होने लगा।
खुद को खोने लगा जब कोई मुझ सा होने लगा।
शिव प्रताप लोधी
ख़ाइफ़ है क्यों फ़स्ले बहारांँ, मैं भी सोचूँ तू भी सोच
ख़ाइफ़ है क्यों फ़स्ले बहारांँ, मैं भी सोचूँ तू भी सोच
Sarfaraz Ahmed Aasee
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
DR ARUN KUMAR SHASTRI
आरक्षण
आरक्षण
Artist Sudhir Singh (सुधीरा)
अंग प्रदर्शन करने वाले जितने भी कलाकार है उनके चरित्र का अस्
अंग प्रदर्शन करने वाले जितने भी कलाकार है उनके चरित्र का अस्
Rj Anand Prajapati
अभिनेत्री वाले सुझाव
अभिनेत्री वाले सुझाव
Raju Gajbhiye
*जब हो जाता है प्यार किसी से*
*जब हो जाता है प्यार किसी से*
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
मिली पात्रता से अधिक, पचे नहीं सौगात।
मिली पात्रता से अधिक, पचे नहीं सौगात।
डॉ.सीमा अग्रवाल
" चर्चा चाय की "
Dr Meenu Poonia
मुस्कुराना जरूरी है
मुस्कुराना जरूरी है
Mamta Rani
कुछ लिखूँ ....!!!
कुछ लिखूँ ....!!!
Kanchan Khanna
।।जन्मदिन की बधाइयाँ ।।
।।जन्मदिन की बधाइयाँ ।।
Shashi kala vyas
"भव्यता"
*Author प्रणय प्रभात*
जो भूलने बैठी तो, यादें और गहराने लगी।
जो भूलने बैठी तो, यादें और गहराने लगी।
Manisha Manjari
ला-फ़ानी
ला-फ़ानी
Shyam Sundar Subramanian
2557.पूर्णिका
2557.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
जन्मदिन शुभकामना
जन्मदिन शुभकामना
नवीन जोशी 'नवल'
Loading...