Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
5 Feb 2023 · 2 min read

💐उनके साथ का कुछ असर देखें तो माने💐

##मणिकर्णिका##
##तुम में दिलचस्पी है,बस।
##फालतू मोमबत्तियों में नहीं।
##लूट नहीं हो रही।
##फालतू का ज्ञान मत दो।
##हमारा सहयोग करते रहो।
##किसी के लिए भी धन नहीं है।
##शुक्रिया, विभिन्न सुझावों के लिए।
##कभी मिलेंगे, ठीक है।
##फिर शुक्रिया, कुछ मजबूरी है।
##अपनी किताब भेज दो।
##खरीदी भी नहीं
##मैं उनका,वह मेरे हैं
##उनके लिए भी,मेरे लिए भी,
##जाने कितने आते सबेरे हैं🙂
##धन्यवाद।
##तस्दीक़ कर देना।
##जिसके यहाँ रुका था,वह बहुत दुष्ट है।
##सम्पर्क में मत आना।

उनके साथ का कुछ असर देखें तो माने,
उनके साथ का कुछ असर देखें तो माने,
महकते रहे फूल भी तुम्हारी कमी में,
कोई नई बात क्या है तुम्हारी पेशगी में?
कोई रहम,सबर कोई इल्जाम कहाँ है?
बतौर सब मिल गए, वैसे मिलेंगे जमी में,
कभी मिल सके न तो फिर कैसे जाने,
उनके साथ का कुछ असर देखें तो माने।।1।।
रिन्दों ने कहा तुम छलकने उन्हें दो,
और कहा न सुने तो कसम मेरी उन्हें दो,
ज़माने गए बिना देखे तुम्हें ओ दिलबर,
दिखाकर मुस्कुराहट तसल्ली हमें दो,
कभी देखा न,न कोई बोसी, लगे दिल में समाने,
उनके साथ का कुछ असर देखें तो माने।।2।।
कोई बहाने को लेकर कभी तो मिलते,
काँटे नहीं थे,दो दिल ही तो मिलते,
अज़ीब दास्ताँ है, न कहना न सुनना,
कभी न दिखाई दिए उनके लब भी हिलते,
टूटा हुआ है दिल,तो फिर क्यों लगे हैं लुभाने,
उनके साथ का कुछ असर देखें तो माने।।3।।
कोई मज़मून न हो,तो मुस्कान दे दें,
चलो सब जानकर ही अन्जान कह दें,
कोई सितम करें या कोई घाव दें दें,
भूलें सब,अब,अपनी पहचान दें दें,
कभी रूठे ही नहीं, तो क्यों हैं मनाने?
उनके साथ का कुछ असर देखें तो माने।।4।।

बोसी-चूमना

©®अभिषेक: पाराशरः’आनंद’

Language: Hindi
Tag: गीत
1 Like · 191 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
मस्ती को क्या चाहिए ,मन के राजकुमार( कुंडलिया )
मस्ती को क्या चाहिए ,मन के राजकुमार( कुंडलिया )
Ravi Prakash
क्रोध को नियंत्रित कर अगर उसे सही दिशा दे दिया जाय तो असंभव
क्रोध को नियंत्रित कर अगर उसे सही दिशा दे दिया जाय तो असंभव
Paras Nath Jha
*भारतीय क्रिकेटरों का जोश*
*भारतीय क्रिकेटरों का जोश*
Harminder Kaur
मिसाल रेशमा
मिसाल रेशमा
Dr. Kishan tandon kranti
हम पचास के पार
हम पचास के पार
Sanjay Narayan
धूल से ही उत्सव हैं,
धूल से ही उत्सव हैं,
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
🙏 🌹गुरु चरणों की धूल🌹 🙏
🙏 🌹गुरु चरणों की धूल🌹 🙏
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
मेरा तितलियों से डरना
मेरा तितलियों से डरना
ruby kumari
* गीत मनभावन सुनाकर *
* गीत मनभावन सुनाकर *
surenderpal vaidya
पिता (मर्मस्पर्शी कविता)
पिता (मर्मस्पर्शी कविता)
Dr. Kishan Karigar
चाहत
चाहत
Sûrëkhâ Rãthí
15)”शिक्षक”
15)”शिक्षक”
Sapna Arora
सही कहो तो तुम्हे झूटा लगता है
सही कहो तो तुम्हे झूटा लगता है
Rituraj shivem verma
है धरा पर पाप का हर अभिश्राप बाकी!
है धरा पर पाप का हर अभिश्राप बाकी!
Bodhisatva kastooriya
फेसबुक
फेसबुक
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
मुसाफिर हैं जहां में तो चलो इक काम करते हैं
मुसाफिर हैं जहां में तो चलो इक काम करते हैं
Mahesh Tiwari 'Ayan'
अमृतकलश
अमृतकलश
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
भारत मे तीन चीजें हमेशा शक के घेरे मे रहतीं है
भारत मे तीन चीजें हमेशा शक के घेरे मे रहतीं है
शेखर सिंह
दूषित न कर वसुंधरा को
दूषित न कर वसुंधरा को
goutam shaw
बावरी
बावरी
पंकज पाण्डेय सावर्ण्य
माँ मेरी परिकल्पना
माँ मेरी परिकल्पना
Dr Manju Saini
सफलता का महत्व समझाने को असफलता छलती।
सफलता का महत्व समझाने को असफलता छलती।
Neelam Sharma
पिता बनाम बाप
पिता बनाम बाप
Sandeep Pande
ईच्छा का त्याग -  राजू गजभिये
ईच्छा का त्याग - राजू गजभिये
Raju Gajbhiye
इतना तो करम है कि मुझे याद नहीं है
इतना तो करम है कि मुझे याद नहीं है
Shweta Soni
रात का रक्स जारी है
रात का रक्स जारी है
हिमांशु Kulshrestha
#काकोरी_दिवस_आज
#काकोरी_दिवस_आज
*Author प्रणय प्रभात*
चाहे अकेला हूँ , लेकिन नहीं कोई मुझको गम
चाहे अकेला हूँ , लेकिन नहीं कोई मुझको गम
gurudeenverma198
Love is like the wind
Love is like the wind
Vandana maurya
“फेसबूक का व्यक्तित्व”
“फेसबूक का व्यक्तित्व”
DrLakshman Jha Parimal
Loading...