Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
24 Jul 2023 · 1 min read

■ क़ायदे की बात…

■ क़ायदे की बात…

1 Like · 108 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
ममत्व की माँ
ममत्व की माँ
Raju Gajbhiye
फ़र्क़..
फ़र्क़..
Rekha Drolia
पुकार
पुकार
Manu Vashistha
सावन सूखा
सावन सूखा
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
ग़ज़ल
ग़ज़ल
Dr. Sunita Singh
पाती
पाती
डॉक्टर रागिनी
श्री राम भजन
श्री राम भजन
Khaimsingh Saini
शीर्षक - 'शिक्षा : गुणात्मक सुधार और पुनर्मूल्यांकन की महत्ती आवश्यकता'
शीर्षक - 'शिक्षा : गुणात्मक सुधार और पुनर्मूल्यांकन की महत्ती आवश्यकता'
ज्ञानीचोर ज्ञानीचोर
बेपरवाह खुशमिज़ाज़ पंछी
बेपरवाह खुशमिज़ाज़ पंछी
Suman (Aditi Angel 🧚🏻)
पारिजात छंद
पारिजात छंद
Neelam Sharma
नदी की करुण पुकार
नदी की करुण पुकार
Anil Kumar Mishra
निश्छल प्रेम के बदले वंचना
निश्छल प्रेम के बदले वंचना
Koमल कुmari
बीते कल की क्या कहें,
बीते कल की क्या कहें,
sushil sarna
डोला कड़वा -
डोला कड़वा -
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
ज्ञानों का महा संगम
ज्ञानों का महा संगम
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
*सब से महॅंगा इस समय, पुस्तक का छपवाना हुआ (मुक्तक)*
*सब से महॅंगा इस समय, पुस्तक का छपवाना हुआ (मुक्तक)*
Ravi Prakash
Yesterday ? Night
Yesterday ? Night
Otteri Selvakumar
आँखें शिकायत करती हैं गमों मे इस्तेमाल हमारा ही क्यों करते ह
आँखें शिकायत करती हैं गमों मे इस्तेमाल हमारा ही क्यों करते ह
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
हां मैंने ख़ुद से दोस्ती की है
हां मैंने ख़ुद से दोस्ती की है
Sonam Puneet Dubey
जादुई गज़लों का असर पड़ा है तेरी हसीं निगाहों पर,
जादुई गज़लों का असर पड़ा है तेरी हसीं निगाहों पर,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
3390⚘ *पूर्णिका* ⚘
3390⚘ *पूर्णिका* ⚘
Dr.Khedu Bharti
उसको फिर उससा
उसको फिर उससा
Dr fauzia Naseem shad
कमली हुई तेरे प्यार की
कमली हुई तेरे प्यार की
Swami Ganganiya
"कलयुग का साम्राज्य"
Dr. Kishan tandon kranti
Expectations
Expectations
पूर्वार्थ
अनुनय (इल्तिजा) हिन्दी ग़ज़ल
अनुनय (इल्तिजा) हिन्दी ग़ज़ल
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
एक शेर
एक शेर
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
पूर्णिमा का चाँद
पूर्णिमा का चाँद
Neeraj Agarwal
हर दिन माँ के लिए
हर दिन माँ के लिए
Sandhya Chaturvedi(काव्यसंध्या)
वो मुझे पास लाना नही चाहता
वो मुझे पास लाना नही चाहता
कृष्णकांत गुर्जर
Loading...