Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
21 Mar 2019 · 1 min read

होली का हुड़दंग

होली का हुड़दंग दिलों पर छाया है
रंगों का त्यौहार सुहाना आया है

काले पीले रंग पुते हैं चेहरे पर
देख हमीं को डरा हमारा साया है

कड़वी बातें सभी पुरानी भूल गए
गुझिया का मीठापन मन को भाया है

लदी बौर से महकी अमवा की डाली
गीत कोकिला ने आ मधुर सुनाया है

सभी रँगो के युग्म सुनाकर होली के
समां रँगीला सबने आज बनाया है

बैठा टेसू आज सभी के सर चढ़कर
रँग गुलाल अपने ऊपर इतराया है

भूल सको यदि बैर ‘अर्चना’ होली में
तब समझो त्यौहार समझ ये आया है

डॉ अर्चना गुप्ता
मुरादाबाद (उ प्र)

1 Comment · 433 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr Archana Gupta
View all
You may also like:
भगवा है पहचान हमारी
भगवा है पहचान हमारी
Dr. Pratibha Mahi
हम तुम्हारे साथ हैं
हम तुम्हारे साथ हैं
विक्रम कुमार
*चलो नई जिंदगी की शुरुआत करते हैं*.....
*चलो नई जिंदगी की शुरुआत करते हैं*.....
Harminder Kaur
3303.⚘ *पूर्णिका* ⚘
3303.⚘ *पूर्णिका* ⚘
Dr.Khedu Bharti
निरन्तरता ही जीवन है चलते रहिए
निरन्तरता ही जीवन है चलते रहिए
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
नरम दिली बनाम कठोरता
नरम दिली बनाम कठोरता
Karishma Shah
*संवेदनाओं का अन्तर्घट*
*संवेदनाओं का अन्तर्घट*
Manishi Sinha
खुद के होते हुए भी
खुद के होते हुए भी
Dr fauzia Naseem shad
सितारों की तरह चमकना है, तो सितारों की तरह जलना होगा।
सितारों की तरह चमकना है, तो सितारों की तरह जलना होगा।
Yogi Yogendra Sharma : Motivational Speaker
नारी शक्ति.....एक सच
नारी शक्ति.....एक सच
Neeraj Agarwal
BUTTERFLIES
BUTTERFLIES
Dhriti Mishra
अँधेरे में नहीं दिखता
अँधेरे में नहीं दिखता
Anil Mishra Prahari
कोरोना का रोना! / MUSAFIR BAITHA
कोरोना का रोना! / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
Bachpan , ek umar nahi hai,
Bachpan , ek umar nahi hai,
Sakshi Tripathi
May 3, 2024
May 3, 2024
DR ARUN KUMAR SHASTRI
देव उठनी
देव उठनी
विनोद कृष्ण सक्सेना, पटवारी
पड़ोसन ने इतरा कर पूछा-
पड़ोसन ने इतरा कर पूछा- "जानते हो, मेरा बैंक कौन है...?"
*प्रणय प्रभात*
If I were the ocean,
If I were the ocean,
पूर्वार्थ
आँगन में एक पेड़ चाँदनी....!
आँगन में एक पेड़ चाँदनी....!
singh kunwar sarvendra vikram
मैं नही चाहती किसी के जैसे बनना
मैं नही चाहती किसी के जैसे बनना
ruby kumari
रचना प्रेमी, रचनाकार
रचना प्रेमी, रचनाकार
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
सहमी -सहमी सी है नज़र तो नहीं
सहमी -सहमी सी है नज़र तो नहीं
Shweta Soni
ये जो फेसबुक पर अपनी तस्वीरें डालते हैं।
ये जो फेसबुक पर अपनी तस्वीरें डालते हैं।
Manoj Mahato
राजनीती
राजनीती
Bodhisatva kastooriya
रखना जीवन में सदा, सुंदर दृष्टा-भाव (कुंडलिया)
रखना जीवन में सदा, सुंदर दृष्टा-भाव (कुंडलिया)
Ravi Prakash
शिव स्तुति
शिव स्तुति
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
आज कृत्रिम रिश्तों पर टिका, ये संसार है ।
आज कृत्रिम रिश्तों पर टिका, ये संसार है ।
Manisha Manjari
भारत कि गौरव गरिमा गान लिखूंगा
भारत कि गौरव गरिमा गान लिखूंगा
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
"बल और बुद्धि"
Dr. Kishan tandon kranti
*सीता नवमी*
*सीता नवमी*
Shashi kala vyas
Loading...