Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
18 Feb 2017 · 1 min read

हिंदु हिंदुस्तान जहाँ मे

हिंदु हिंदुस्तान   जहाँ मै,मेरा   देश महान है|
खेतीकरताभूखामरता,मौतसेलडताकिसानहै||

बेरोजगारी के कारण भी,दुखियारे इंसान है|
सीमा मरते है जिनको,कहते वीर जवान है||

देश की आजादी के लिये भी,दी पुरखों ने जान है|
हिंदु हिंदुस्तान हमारा,मेरा देश महान है||

देश पे राज चलाने वाले,नेता भी धनवान है|
भूखा पेट सोने वाला,तो मजदूर किसान है||

कालाधन रखने वाले तू,दो दिन का मेहमान है|
हिंदु हिंदुस्तान हमारा,मेरा देश महान है||

बात बात का पंथगा,लड़ता यहा जहान है.|
व्यापारी की करे गुलामी,यहाँ पर वीर किसान है

प्यारा हर इंसान यहाँ पर,नेता तो मेहमान है.
हिंदु हिंदुस्तान हमारा,मेरा देश महान है

Language: Hindi
5 Likes · 286 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
लो फिर गर्मी लौट आई है
लो फिर गर्मी लौट आई है
VINOD CHAUHAN
याद आते हैं
याद आते हैं
Juhi Grover
जाहि विधि रहे राम ताहि विधि रहिए
जाहि विधि रहे राम ताहि विधि रहिए
Sanjay ' शून्य'
दुनिया की सबसे खूबसूरत चीज नींद है ,जो इंसान के कुछ समय के ल
दुनिया की सबसे खूबसूरत चीज नींद है ,जो इंसान के कुछ समय के ल
Ranjeet kumar patre
बदलाव
बदलाव
Shyam Sundar Subramanian
3274.*पूर्णिका*
3274.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
राम लला
राम लला
Satyaveer vaishnav
राम सीता लक्ष्मण का सपना
राम सीता लक्ष्मण का सपना
Shashi Mahajan
मेरा गांव
मेरा गांव
अनिल "आदर्श"
सावन में घिर घिर घटाएं,
सावन में घिर घिर घटाएं,
Seema gupta,Alwar
नारी तेरे रूप अनेक
नारी तेरे रूप अनेक
विजय कुमार अग्रवाल
कागज़ की नाव सी, न हो जिन्दगी तेरी
कागज़ की नाव सी, न हो जिन्दगी तेरी
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
"पूछो जरा"
Dr. Kishan tandon kranti
* नदी की धार *
* नदी की धार *
surenderpal vaidya
उपहार उसी को
उपहार उसी को
अभिषेक पाण्डेय 'अभि ’
किस लिए पास चले आए अदा किसकी थी
किस लिए पास चले आए अदा किसकी थी
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
मैं
मैं "लूनी" नही जो "रवि" का ताप न सह पाऊं
ruby kumari
जो दिखता है नहीं सच वो हटा परदा ज़रा देखो
जो दिखता है नहीं सच वो हटा परदा ज़रा देखो
आर.एस. 'प्रीतम'
जरुरत क्या है देखकर मुस्कुराने की।
जरुरत क्या है देखकर मुस्कुराने की।
Ashwini sharma
आज़ाद पैदा हुआ आज़ाद था और आज भी आजाद है।मौत के घाट उतार कर
आज़ाद पैदा हुआ आज़ाद था और आज भी आजाद है।मौत के घाट उतार कर
Rj Anand Prajapati
राज़ बता कर जाते
राज़ बता कर जाते
Monika Arora
गुरु-पूर्णिमा पर...!!
गुरु-पूर्णिमा पर...!!
Kanchan Khanna
*संस्मरण*
*संस्मरण*
Ravi Prakash
नेता खाते हैं देशी घी
नेता खाते हैं देशी घी
महेश चन्द्र त्रिपाठी
यह कैसी खामोशी है
यह कैसी खामोशी है
निरंजन कुमार तिलक 'अंकुर'
'ਸਾਜਿਸ਼'
'ਸਾਜਿਸ਼'
विनोद सिल्ला
मंत्र  :  दधाना करपधाभ्याम,
मंत्र : दधाना करपधाभ्याम,
Harminder Kaur
होगा कोई ऐसा पागल
होगा कोई ऐसा पागल
gurudeenverma198
भारत का ’मुख्यधारा’ का मीडिया मूलतः मनुऔलादी है।
भारत का ’मुख्यधारा’ का मीडिया मूलतः मनुऔलादी है।
Dr MusafiR BaithA
स्वाभिमानी किसान
स्वाभिमानी किसान
Dr. Pradeep Kumar Sharma
Loading...