Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

” हार – जीत का छोर नहीं है ” !!

जन्मघुट्टी में यही मिला है ,
पुष्प सदा काँटों में खिला है /
संकल्पों का खेल है जीवन ,
लक्ष्य बिना बेमेल है जीवन /
अँधियारा फिर लौट न पाए –
ऐसी कोई भोर नहीं है //

सूख -दुःख के अनुभव होते हैं ,
कुछ पाते हैं ,कुछ खोते हैं /
खुशहाली ,कभी गम मिलते हैं ,
आँखों में आंसू पलते हैं /
बुरे वक़्त को बाँध सके जो –
ऐसी कोई डोर नहीं है //

रुखी-सूखी ही मिलती है ,
पटियों पर रातें कटती हैं /
रुपयों से रूपया टकराए ,
हम ना संचित धन कर पाए /
पीड़ा ने जिसको न छुआ हो –
ऐसा कोई पोर नहीं है //

मेहनत से सब कुछ पाया है ,
हार -जीत को अपनाया है /
बड़े चैन से हम सोते हैं ,
अकसर ख्वाबों को बोते हैं /
अपनी गठरी ले जाये –
ऐसा कोई चोर नहीं है //

543 Views
You may also like:
काश हमारे पास भी होती ये दौलत।
Taj Mohammad
My Expressions
Shyam Sundar Subramanian
मैं वफ़ा हूँ अपने वादे पर
gurudeenverma198
शहीद भारत यदुवंशी को मेरा नमन
Surabhi bharati
अभी बचपन है इनका
gurudeenverma198
लत...
Sapna K S
मोर के मुकुट वारो
शेख़ जाफ़र खान
आंखों का वास्ता।
Taj Mohammad
खेसारी लाल बानी
Ranjeet Kumar
श्री राम
नवीन जोशी 'नवल'
इंद्रधनुष
Arjun Chauhan
पिता अम्बर हैं इस धारा का
Nitu Sah
महँगाई
आकाश महेशपुरी
बुंदेली दोहे
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
जो चाहे कर सकता है
Alok kumar Mishra
यह तो वक्ती हस्ती है।
Taj Mohammad
पिता
Arvind trivedi
आंधी में दीया
Shekhar Chandra Mitra
अग्निवीर
पाण्डेय चिदानन्द
तन-मन की गिरह
Saraswati Bajpai
शहीद की आत्मा
Anamika Singh
मैं इनकार में हूं
शिव प्रताप लोधी
निर्गुण सगुण भेद..?
मनोज कर्ण
रिश्ते
कुलदीप दहिया "मरजाणा दीप"
पानी का दर्द
Anamika Singh
मेरे खुदा की खुदाई।
Taj Mohammad
'मेरी यादों में अब तक वे लम्हे बसे'
Rashmi Sanjay
अजनबी
Dr. Alpa H. Amin
विद्या पर दोहे
Dr. Sunita Singh
अब आगाज यहाँ
vishnushankartripathi7
Loading...