Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
9 Mar 2023 · 1 min read

हमसाया

क्यों लहरों से मेरी, आकर तू टकराता है,
मैं तो टूटती हीं हूँ, साथ मेरे तू भी टूट जाता है।
रूठी सबसे हूँ मैं, क्यों तू हीं आकर मनाता है,
मेरे दर्द की गहराईयों से, अपने दर्द को जोड़ जाता है।
सपने जो छोड़े थे पीछे, साथ अपने लेकर आता है,
बेवज़ह सी उमीदों को मेरी, अपने एहसास से जगाता है।
बद्दुआओं से दुआओं की रौशनी, छीन लाता है,
और जो अंधेरों में चलती हूँ मैं, तो मेरे साथ गुम हो जाता है।
अगर सतातीं हैं ठंडी हवाएं, तो लिहाफ़ खुद को मेरा बनाता है,
तू क्यों बारिशों में थाम कर, मेरा हाथ भींग जाता है?
सांसें जो रुकतीं है मेरी, अपनी साँसों को गंवाता है,
मेरे हर धड़कन पर क्यों, अपनी जान तू लूटा आता है?
ख़ामख़ाह मेरे अश्क़ों के साथ, तू अपने अश्क़ बहाता है,
बिछड़ती हूँ जो मैं खुद से, तो मुझे ढूंढ कर क्यों लाता है?
जो बोलती नहीं मैं कभी, क्यों आवाज़ खुद को, मेरी बनाता है,
और मेरे ख़ामोश लम्हों में, अपने शब्दों को भूल जाता है।
ये कैसे नसीब से, वो ईश्वर मुझे मिलाता है,
जानती हूँ साथ चलना नहीं है, फ़िर क्यों हमसाया बन, साथ मेरा तू दे जाता है?

314 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Manisha Manjari
View all
You may also like:
तेवरी
तेवरी
कवि रमेशराज
*****सूरज न निकला*****
*****सूरज न निकला*****
Kavita Chouhan
I'm not proud
I'm not proud
VINOD CHAUHAN
नानखटाई( बाल कविता )
नानखटाई( बाल कविता )
Ravi Prakash
न मैंने अबतक बुद्धत्व प्राप्त किया है
न मैंने अबतक बुद्धत्व प्राप्त किया है
ruby kumari
रेत सी इंसान की जिंदगी हैं
रेत सी इंसान की जिंदगी हैं
Neeraj Agarwal
जीवन के लक्ष्य,
जीवन के लक्ष्य,
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
धुन
धुन
Sangeeta Beniwal
"लोगों की सोच"
Yogendra Chaturwedi
*Relish the Years*
*Relish the Years*
Poonam Matia
"बदलते भारत की तस्वीर"
पंकज कुमार कर्ण
राजतंत्र क ठगबंधन!
राजतंत्र क ठगबंधन!
Bodhisatva kastooriya
■
■ "अ" से "ज्ञ" के बीच सिमटी है दुनिया की प्रत्येक भाषा। 😊
*प्रणय प्रभात*
'हाँ
'हाँ" मैं श्रमिक हूँ..!
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
सहयोग की बातें कहाँ, विचार तो मिलते नहीं ,मिलना दिवा स्वप्न
सहयोग की बातें कहाँ, विचार तो मिलते नहीं ,मिलना दिवा स्वप्न
DrLakshman Jha Parimal
तनाव ना कुछ कर पाने या ना कुछ पाने की जनतोजहत  का नही है ज्य
तनाव ना कुछ कर पाने या ना कुछ पाने की जनतोजहत का नही है ज्य
पूर्वार्थ
शुभ प्रभात मित्रो !
शुभ प्रभात मित्रो !
Mahesh Jain 'Jyoti'
सत्य और सत्ता
सत्य और सत्ता
विजय कुमार अग्रवाल
चिड़िया
चिड़िया
Kanchan Khanna
57...Mut  qaarib musamman mahzuuf
57...Mut qaarib musamman mahzuuf
sushil yadav
नेपालीको गर्व(Pride of Nepal)
नेपालीको गर्व(Pride of Nepal)
Sidhartha Mishra
जुगनू तेरी यादों की मैं रोशनी सी लाता हूं,
जुगनू तेरी यादों की मैं रोशनी सी लाता हूं,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
2551.*पूर्णिका*
2551.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
महावीर उत्तरांचली आप सभी के प्रिय कवि
महावीर उत्तरांचली आप सभी के प्रिय कवि
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
आ ठहर विश्राम कर ले।
आ ठहर विश्राम कर ले।
सरोज यादव
रैन  स्वप्न  की  उर्वशी, मौन  प्रणय की प्यास ।
रैन स्वप्न की उर्वशी, मौन प्रणय की प्यास ।
sushil sarna
आदित्य(सूरज)!
आदित्य(सूरज)!
Abhinay Krishna Prajapati-.-(kavyash)
बह्र ## 2122 2122 2122 212 फ़ाइलातुन फ़ाइलातुन फ़ाइलातुन फ़ाइलुन काफिया ## आते रदीफ़ ## रहे
बह्र ## 2122 2122 2122 212 फ़ाइलातुन फ़ाइलातुन फ़ाइलातुन फ़ाइलुन काफिया ## आते रदीफ़ ## रहे
Neelam Sharma
~~तीन~~
~~तीन~~
Dr. Vaishali Verma
आँखें
आँखें
लक्ष्मी सिंह
Loading...