Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
11 Oct 2022 · 1 min read

हमको किस के सहारे छोड़ गए।

तुम हमको यूं रुलाकर तन्हा मुंह मोड़ कर चले गए।
तुम थे मसीहा हमारे हमको किस के सहारे छोड़ गए।।

अब कहेंगे हम किसको धरतीपुत्र और किसे नेता जी।
थे सहारा तुम हमारा क्यूं हमको बेसहारा करके चल दिए।।

समाजवाद के तुम थे अनुयायी कोई भेद ना करते थे।
तुम्हारी मौत पर हर आंख से जानें कितने अश्क बह गए।।

ज़मीन से उठकर तुमने ऊंचे आसमान को छुआ था।
आपने संग संग जाने कितनों को उड़ना सीखा कर गए।।

रुक नहीं रही आस्रु धारा तुम अंतविहीन जो हो गए।
सारा देश ही सदमे में है तुम्हारे तुम सबको गम दे गए।।

धरतीपुत्र मुलायम सदा नाम रहेगा ये कायम जग में।
सूरज जैसा तुम चमकोगे नाम अमर तुम कर गए।।

पक्ष विपक्ष हर तरफ से तुम सबसे सम्मान पाते थे।
ना खतम होगा युग तुम्हारा जो तुम बनाकर चले गए।।

तुम्हारा नाम ही काफी था विचार मन में आने के लिए।
कभी ना बुझेगा समाजवाद का दीया जो तुम जलाकर गए।।

जग बस तुम्हारी आत्मा की शांति की प्रार्थना कर रहा।
तुमको शत शत नमन हम शीश झुकाकर कर रहे।।

ताज मोहम्मद
लखनऊ

Language: Hindi
2 Likes · 1 Comment · 134 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
स्वदेशी के नाम पर
स्वदेशी के नाम पर
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
ग़ज़ल
ग़ज़ल
प्रीतम श्रावस्तवी
जीवन ज्योति
जीवन ज्योति
भवानी सिंह धानका 'भूधर'
जमाना तो डरता है, डराता है।
जमाना तो डरता है, डराता है।
Priya princess panwar
ख्वाब सस्ते में निपट जाते हैं
ख्वाब सस्ते में निपट जाते हैं
सिद्धार्थ गोरखपुरी
गायब हुआ तिरंगा
गायब हुआ तिरंगा
आर एस आघात
जिंदगी न जाने किस राह में खडी हो गयीं
जिंदगी न जाने किस राह में खडी हो गयीं
Sonu sugandh
फाग (बुंदेली गीत)
फाग (बुंदेली गीत)
umesh mehra
*हे महादेव आप दया के सागर है मैं विनती करती हूं कि मुझे क्षम
*हे महादेव आप दया के सागर है मैं विनती करती हूं कि मुझे क्षम
Shashi kala vyas
हृदय के राम
हृदय के राम
Er. Sanjay Shrivastava
वक़्त के साथ वो
वक़्त के साथ वो
Dr fauzia Naseem shad
मिली जिस काल आजादी, हुआ दिल चाक भारत का।
मिली जिस काल आजादी, हुआ दिल चाक भारत का।
डॉ.सीमा अग्रवाल
मन मुकुर
मन मुकुर
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
एक समय वो था
एक समय वो था
Dr.Rashmi Mishra
Kabhi jo dard ki dawa hua krta tha
Kabhi jo dard ki dawa hua krta tha
Kumar lalit
विचार
विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
सांवली हो इसलिए सुंदर हो
सांवली हो इसलिए सुंदर हो
Aman Kumar Holy
कितना खाली खालीपन है !
कितना खाली खालीपन है !
Saraswati Bajpai
कहां बिखर जाती है
कहां बिखर जाती है
प्रकाश जुयाल 'मुकेश'
कोशिस करो कि दोगले लोगों से
कोशिस करो कि दोगले लोगों से
Shankar N aanjna
24/232. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
24/232. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
ऐ मोहब्बत तेरा कर्ज़दार हूं मैं।
ऐ मोहब्बत तेरा कर्ज़दार हूं मैं।
Phool gufran
चूरचूर क्यों ना कर चुकी हो दुनिया,आज तूं ख़ुद से वादा कर ले
चूरचूर क्यों ना कर चुकी हो दुनिया,आज तूं ख़ुद से वादा कर ले
Nilesh Premyogi
मैं तो महज नीर हूँ
मैं तो महज नीर हूँ
VINOD CHAUHAN
प्यार करोगे तो तकलीफ मिलेगी
प्यार करोगे तो तकलीफ मिलेगी
Harminder Kaur
Ye Sidhiyo ka safar kb khatam hoga
Ye Sidhiyo ka safar kb khatam hoga
Sakshi Tripathi
सच बोलने की हिम्मत
सच बोलने की हिम्मत
Shekhar Chandra Mitra
*कौशल्या (कुंडलिया)*
*कौशल्या (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
💐Prodigy Love-36💐
💐Prodigy Love-36💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
मन कहता है
मन कहता है
Seema gupta,Alwar
Loading...