Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
20 Jul 2023 · 1 min read

सीख ना पाए पढ़के उन्हें हम

सीख ना पाए पढ़के उन्हें हम
लेकिन!!!
उनकी यादों ने सीखा दिया
प्रेम क्या होता हैं ?
वास्तविक!!!
बेवजह बहते आसुओं ने बता दिया !

✍️ D k

1 Like · 109 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
भेंट
भेंट
Harish Chandra Pande
नव वर्ष की बधाई -2024
नव वर्ष की बधाई -2024
Raju Gajbhiye
मन के मंदिर में
मन के मंदिर में
Divya Mishra
अपमान
अपमान
Dr Parveen Thakur
आज की जरूरत~
आज की जरूरत~
दिनेश एल० "जैहिंद"
🇮🇳 🇮🇳 राज नहीं राजनीति हो अपना 🇮🇳 🇮🇳
🇮🇳 🇮🇳 राज नहीं राजनीति हो अपना 🇮🇳 🇮🇳
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
किताब
किताब
Lalit Singh thakur
बाबा साहब एक महान पुरुष या भगवान
बाबा साहब एक महान पुरुष या भगवान
जय लगन कुमार हैप्पी
नेता की रैली
नेता की रैली
Punam Pande
हमारे जीवन की सभी समस्याओं की वजह सिर्फ दो शब्द है:—
हमारे जीवन की सभी समस्याओं की वजह सिर्फ दो शब्द है:—
पूर्वार्थ
जीवन में शॉर्ट कट 2 मिनट मैगी के जैसे होते हैं जो सिर्फ दो म
जीवन में शॉर्ट कट 2 मिनट मैगी के जैसे होते हैं जो सिर्फ दो म
Neelam Sharma
अपने कदमों को बढ़ाती हूँ तो जल जाती हूँ
अपने कदमों को बढ़ाती हूँ तो जल जाती हूँ
SHAMA PARVEEN
मनवा मन की कब सुने, करता इच्छित काम ।
मनवा मन की कब सुने, करता इच्छित काम ।
sushil sarna
किसी की हिफाजत में,
किसी की हिफाजत में,
Dr. Man Mohan Krishna
चाहत ए मोहब्बत में हम सभी मिलते हैं।
चाहत ए मोहब्बत में हम सभी मिलते हैं।
Neeraj Agarwal
हम शायर लोग कहां इज़हार ए मोहब्बत किया करते हैं।
हम शायर लोग कहां इज़हार ए मोहब्बत किया करते हैं।
Faiza Tasleem
#लघुकथा
#लघुकथा
*Author प्रणय प्रभात*
हमारी चाहत तो चाँद पे जाने की थी!!
हमारी चाहत तो चाँद पे जाने की थी!!
SUNIL kumar
दिव्य बोध।
दिव्य बोध।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
*अज्ञानी की कलम*
*अज्ञानी की कलम*
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
सच का सच
सच का सच
डॉ० रोहित कौशिक
उड़ रहा खग पंख फैलाए गगन में।
उड़ रहा खग पंख फैलाए गगन में।
surenderpal vaidya
मेरी मायूस सी
मेरी मायूस सी
Dr fauzia Naseem shad
23/141.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/141.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
-शेखर सिंह
-शेखर सिंह
शेखर सिंह
आसमान तक पहुंचे हो धरती पर हो पांव
आसमान तक पहुंचे हो धरती पर हो पांव
नूरफातिमा खातून नूरी
मदमती
मदमती
Pratibha Pandey
बदली - बदली हवा और ये जहाँ बदला
बदली - बदली हवा और ये जहाँ बदला
सिद्धार्थ गोरखपुरी
मां सीता की अग्नि परीक्षा ( महिला दिवस)
मां सीता की अग्नि परीक्षा ( महिला दिवस)
Rj Anand Prajapati
नशा और युवा
नशा और युवा
ब्रजनंदन कुमार 'विमल'
Loading...