Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#30 Trending Author

समयचक्र गति में

समयचक्र गति में तू भी चलता जा
लेके अपने हंसी सपनो को उड़ता जा
सूरज फिर ढल के कल उदित होगा
तेरे होंगे सपने साकार आगे बढ़ता जा

सूरज उदित हुआ है आई है नयी बेला
सूरज के साथ-साथ तू भी चलता जा
न होना पथ से विमुख मान के हार
नयी उत्साह के साथ आगे बढ़ता जा

आज मिला जो नहीं मिलेगा फिर कल
तू मंज़िल की ओऱ सरिता बन बहता जा
मिटा अपने अंदर से अज्ञानता की कालिमा
अपने ज्ञान की हर द्धार तू खोलता जा

धैर्य साहस से काम ले न हो निराश
धीरे-धीरे सफलता की सीढ़ी चढ़ता जा
समयचक्र गति में कमर कस ले अपना
मुश्किलो की सामना मुस्कुरा के करता जा

मेहनत से बनती है सबका भाग्य यहाँ पर
जो किया है उम्मीद उसे सच करता जा

लिखे जयेंगे फिर से एक नया इतिहास
ज़िन्दगी है रणभूमि योद्धा बन लड़ता जा

177 Views
You may also like:
मुस्की दे, प्रेमानुकरण कर लेता हूँ
Pt. Brajesh Kumar Nayak
विश्व पर्यावरण दिवस 5 जून 2022
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
दुर्योधन कब मिट पाया:भाग:37
AJAY AMITABH SUMAN
यादें आती हैं
Krishan Singh
लाल टोपी
मनोज कर्ण
आंखों का वास्ता।
Taj Mohammad
An abeyance
Aditya Prakash
अधजल गगरी छलकत जाए
Vishnu Prasad 'panchotiya'
✍️सत्ता का नशा✍️
"अशांत" शेखर
बड़े पाक होते हैं।
Taj Mohammad
दिल की ख्वाहिशें।
Taj Mohammad
टोकरी में छोकरी / (समकालीन गीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
तुम धूप छांव मेरे हिस्से की
Saraswati Bajpai
मेरे कच्चे मकान की खपरैल
Umesh Kumar Sharma
Nurse An Angel
Buddha Prakash
कौन किसके बिन अधूरा है
Ram Krishan Rastogi
दोहावली-रूप का दंभ
asha0963
औरतें
Kanchan Khanna
✍️आझादी की किंमत✍️
"अशांत" शेखर
आओ मिलके पेड़ लगाए !
Naveen Kumar
लाशें बिखरी पड़ी हैं।(यूक्रेन पर लिखी गई ग़ज़ल)
Taj Mohammad
💐💐प्रेम की राह पर-10💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
जो चाहे कर सकता है
Alok kumar Mishra
परिणय
मनोज कर्ण
क़िस्मत का सितारा।
Taj Mohammad
एक दुखियारी माँ
DESH RAJ
मेहमान बनकर आए और दुश्मन बन गए ..
ओनिका सेतिया 'अनु '
पिता बना हूं।
Taj Mohammad
एक मसीहा घर में रहता है।
Taj Mohammad
समुंदर बेच देता है
आकाश महेशपुरी
Loading...