Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
31 Mar 2024 · 1 min read

सत्य छिपकर तू कहां बैठा है।

सत्य छिपकर तू कहां बैठा है।
झूठ हावी हो गया है क्यूं तू यूं रूठा है।।

खोजने मैं तुझको जाऊं कहां।
वास्तिविकता से परे हर कोई झूठा है।।

बे मुरव्वत हो गई है जिन्दगी।
आंखों का देखा हर सपना ही टूटा है।।

हकीकत से कोसो दूर हुआ।
इंसा बस कल्पनाओं में यहां जीता है।।

गफलत में जिया जो जीवन।
सब कुछ खोकर कुछ न वो पाता है।।

बुढ़ापे पर समझी ये जिंदगी।
अब सत्य को पाता है तो क्या पाता है।।

ताज मोहम्मद
लखनऊ

3 Likes · 52 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Taj Mohammad
View all
You may also like:
ख़ुश-फ़हमी
ख़ुश-फ़हमी
Fuzail Sardhanvi
तेरी याद
तेरी याद
SURYA PRAKASH SHARMA
हमें प्यार ऐसे कभी तुम जताना
हमें प्यार ऐसे कभी तुम जताना
Dr fauzia Naseem shad
कफन
कफन
Kanchan Khanna
सपना
सपना
ओनिका सेतिया 'अनु '
तारिक़ फ़तह सदा रहे, सच के लंबरदार
तारिक़ फ़तह सदा रहे, सच के लंबरदार
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
वो कुछ इस तरह रिश्ता निभाया करतें हैं
वो कुछ इस तरह रिश्ता निभाया करतें हैं
शिव प्रताप लोधी
छंद मुक्त कविता : जी करता है
छंद मुक्त कविता : जी करता है
Sushila joshi
सफलता मिलना कब पक्का हो जाता है।
सफलता मिलना कब पक्का हो जाता है।
Yogi Yogendra Sharma : Motivational Speaker
यह 🤦😥😭दुःखी संसार🌐🌏🌎🗺️
यह 🤦😥😭दुःखी संसार🌐🌏🌎🗺️
डॉ० रोहित कौशिक
बारिश
बारिश
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
प्यार का रिश्ता
प्यार का रिश्ता
Surinder blackpen
नेह ( प्रेम, प्रीति, ).
नेह ( प्रेम, प्रीति, ).
Sonam Puneet Dubey
अपने कार्यों में अगर आप बार बार असफल नहीं हो रहे हैं तो इसका
अपने कार्यों में अगर आप बार बार असफल नहीं हो रहे हैं तो इसका
Paras Nath Jha
नहीं उनकी बलि लो तुम
नहीं उनकी बलि लो तुम
gurudeenverma198
अहा! जीवन
अहा! जीवन
Punam Pande
दूसरों को देते हैं ज्ञान
दूसरों को देते हैं ज्ञान
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
रामायण में हनुमान जी को संजीवनी बुटी लाते देख
रामायण में हनुमान जी को संजीवनी बुटी लाते देख
शेखर सिंह
2326.पूर्णिका
2326.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
साया ही सच्चा
साया ही सच्चा
Atul "Krishn"
आजकल कल मेरा दिल मेरे बस में नही
आजकल कल मेरा दिल मेरे बस में नही
कृष्णकांत गुर्जर
My Guardian Angel
My Guardian Angel
Manisha Manjari
ज़िंदगी को अगर स्मूथली चलाना हो तो चु...या...पा में संलिप्त
ज़िंदगी को अगर स्मूथली चलाना हो तो चु...या...पा में संलिप्त
Dr MusafiR BaithA
सब बढ़िया
सब बढ़िया
Dr. Mahesh Kumawat
*मिटा-मिटा लो मिट गया, सदियों का अभिशाप (छह दोहे)*
*मिटा-मिटा लो मिट गया, सदियों का अभिशाप (छह दोहे)*
Ravi Prakash
गांधी और गोडसे में तुम लोग किसे चुनोगे?
गांधी और गोडसे में तुम लोग किसे चुनोगे?
Shekhar Chandra Mitra
"नमक"
*प्रणय प्रभात*
ग़म कड़वे पर हैं दवा, पीकर करो इलाज़।
ग़म कड़वे पर हैं दवा, पीकर करो इलाज़।
आर.एस. 'प्रीतम'
"तब पता चलेगा"
Dr. Kishan tandon kranti
*
*"सरहदें पार रहता यार है**
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
Loading...