Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
19 Feb 2023 · 1 min read

💐प्रेम कौतुक-173💐

सच मानो मौत भी सच नहीं हैं,
रब के अलावा कुछ सच नहीं है।

©®अभिषेक: पाराशरः “आनन्द”

Language: Hindi
52 Views
You may also like:
कई राज मेरे मन में कैद में है
कई राज मेरे मन में कैद में है
कवि दीपक बवेजा
बुद्ध तुम मेरे हृदय में
बुद्ध तुम मेरे हृदय में
Buddha Prakash
खास हो तुम
खास हो तुम
Satish Srijan
💐 Prodigy Love-33💐
💐 Prodigy Love-33💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
अपनी टोली
अपनी टोली
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
जन्म कुण्डली के अनुसार भूत प्रेत के अभिष्ट योग -ज्योतिषीय शोध लेख
जन्म कुण्डली के अनुसार भूत प्रेत के अभिष्ट योग -ज्योतिषीय शोध लेख
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
टूटा हूँ इतना कि जुड़ने का मन नही करता,
टूटा हूँ इतना कि जुड़ने का मन नही करता,
Vishal babu (vishu)
हिम्मत है तो मेरे साथ चलो!
हिम्मत है तो मेरे साथ चलो!
विमला महरिया मौज
उनको मत समझाइए
उनको मत समझाइए
राहुल द्विवेदी 'स्मित'
■ सनद रहे....
■ सनद रहे....
*Author प्रणय प्रभात*
*हनुमान जी*
*हनुमान जी*
Shashi kala vyas
मुश्किलों पास आओ
मुश्किलों पास आओ
Dr. Meenakshi Sharma
"कैसे सबको खाऊँ"
लक्ष्मीकान्त शर्मा 'रुद्र'
तुझे भूल जो मैं जाऊं
तुझे भूल जो मैं जाऊं
Dr fauzia Naseem shad
सफ़ेदे का पत्ता
सफ़ेदे का पत्ता
नन्दलाल सुथार "राही"
ग़ज़ल
ग़ज़ल
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
#justareminderekabodhbalak
#justareminderekabodhbalak
DR ARUN KUMAR SHASTRI
गीतिका
गीतिका
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
"दर्द की महक"
Dr. Kishan tandon kranti
मज़दूर
मज़दूर
Shekhar Chandra Mitra
होठों पर मुस्कान,आँखों में नमी है।
होठों पर मुस्कान,आँखों में नमी है।
लक्ष्मी सिंह
प्रेम की अनुपम धारा में कोई कृष्ण बना कोई राधा
प्रेम की अनुपम धारा में कोई कृष्ण बना कोई राधा
सुशील मिश्रा (क्षितिज राज)
डाल-डाल तुम हो कर आओ
डाल-डाल तुम हो कर आओ
नन्दलाल सिंह 'कांतिपति'
✍️पर्दा-ताक हुवा नहीं✍️
✍️पर्दा-ताक हुवा नहीं✍️
'अशांत' शेखर
किसी से बाते करना छोड़ देना यानि की त्याग देना, उसे ब्लॉक कर
किसी से बाते करना छोड़ देना यानि की त्याग देना, उसे ब्लॉक कर
Rj Anand Prajapati
*पचपन का तन बचपन का मन, कैसे उमर बताएँ【हिंदी गजल/गीतिका 】*
*पचपन का तन बचपन का मन, कैसे उमर बताएँ【हिंदी गजल/गीतिका 】*
Ravi Prakash
कितने इश्क़❤️🇮🇳 लिख गये, कितने इश्क़ सिखा गये,
कितने इश्क़❤️🇮🇳 लिख गये, कितने इश्क़ सिखा गये,
Shakil Alam
जहाँ तक राजनीति विचारधारा का संबंध है यदि वो सटीक ,तर्कसंगत
जहाँ तक राजनीति विचारधारा का संबंध है यदि वो सटीक ,तर्कसंगत
DrLakshman Jha Parimal
It is necessary to explore to learn from experience😍
It is necessary to explore to learn from experience😍
Sakshi Tripathi
संविधान की शपथ
संविधान की शपथ
मनोज कर्ण
Loading...